बुलंदशहर, जेएनएन। हाईडिल कालोनी स्थित मुख्य अभियंता कार्यालय पर सोमवार को निविदा संविदा कर्मचारी सेवा समिति के तत्वावधान में कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर कार्य बहिष्कार कर धरना प्रदर्शन किया। कर्मचारियों ने पांच माह से मानदेय नहीं मिलने सहित कई मांगों के निस्तारण कराने की मांग की है।

समिति के जिला अध्यक्ष हरीश चौधरी ने कहा कि जिले में विद्युत वितरण व्यवस्था के परिचालन व अनुरक्षण में बीईसीएल द्वारा लगभग 1800 कर्मचारी कार्य कर रहे हैं। इतनी बड़ी संख्या में कर्मचारियों के कार्य करने के बाद भी विभागीय अफसर और कार्यदायी संस्था इनकी तरफ ध्यान नहीं दे रही है। जिस कारण कर्मचारियों का लगातार उत्पीड़न हो रहा है। समिति काफी दिनों से 10 मांग विभागीय अफसर और कार्यदायी संस्था से कर चुकी है। लेकिन उनका निस्तारण नहीं हो पा रहा है। अधिकांश संविदा कर्मियों को अक्टूबर माह से मानदेय नहीं मिल पाया। जिससे उनके सामने आर्थिक संकट पैदा हो गया है। कार्यदायी संस्था ने कर्मचारियों को ईएसआई एवं ईपीएफ का ब्यौरा भी उपलब्ध नहीं कराया है। कार्यदायी संस्था ने कर्मचारियों को आफर लेटर भी जारी नहीं किए हैं। पांच वर्ष से अधिक कार्य अनुभव वाले कर्मचारियों को कुशल कार्मिक के वेतनमान पर भी नहीं रखा जा रहा है। विद्युत दुर्घटनाओं में घायल कर्मचारियों को चिकित्सा संबंधी व्यय के लिए कोई धनराशि नहीं दी जा रही है। कर्मचारियों को बेवजह परेशान किया जाता है। कर्मचारियों को लिखित में ड्यूटी रोस्टर भी नहीं बनाया गया है। जिला सचिव सूरजभान ने कहा कि कर्मचारियों व उनके परिजन के इलाज के लिए इएसआई अस्पताल की भी व्यवस्था भी नहीं है। धरना में राधेश्याम वर्मा, चन्द्रपाल सिंह, गौरव राजपूत, कपिल शर्मा मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस