बुलंदशहर, जेएनएन। गिरता तापमान सर्दी में इजाफा कर रहा है। अब शनिवार से सोमवार तक चमक-गरज के साथ बरसात होने की संभावना बनी हुई है। ओलावृष्टि के भी आसार रहेंगे। ऐसे में मौसम के इस बदलाव के कारण सर्दी में और इजाफा होने वाला है। मौसम विभाग ने यह पूर्वानुमान जताकर अलर्ट जारी किया है। लोगों को सावधानी बरतने की सलाह भी दी है।

शुक्रवार को भी तापमान सामान्य से नीचे रहा। घना कोहरा छाने की वजह से दृश्यता प्रभावित हुई। दिन चढ़ने पर सूर्यदेव के दर्शन हुए, लेकिन सर्द हवाओं के आगे खिली धूप राहत नहीं दे पाई। हालांकि अधिकतम तापमान एक डिग्री ऊपर चढ़कर 18 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। जबकि न्यूनतम तापमान तीन डिग्री का इजाफा हुआ और पारा 11 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं, केवीके के मौसम विज्ञानी डा. रामानंद पटेल के अनुसार 22 से 24 जनवरी तक पश्चिमी विक्षोभ के यू-टर्न का असर देखा जाएगा। चमक-गरज के साथ बरसात होने की संभावना बनी रहेगी। हल्की ओलावृष्टि होने की संभावना भी रहेगी। हवा की गति बढ़ने के कारण सर्दी में और इजाफा होगा। ऐसे में लापरवाही भारी पड़ जाएगी। खिली धूप लोगों ने ली राहत की सांस

अनूपशहर : पिछले कई दिन से खराब मौसम कड़ाके की सर्दी ने सामान्य जन जीवन बुरी तरह प्रभावित कर दिया था। शुक्रवार को दोपहर के समय अचानक मौसम साफ होने के साथ धूप निकलने पर लोगों ने राहत की सांस ली, जबकि बच्चे गिल्ली डंडा खेलने गंगा की तलहटी में पहुंच गए।

शुक्रवार को दोपहर के समय अचानक मौसम साफ हो गया, तेज धूप निकल आई। जिससे आम जन ने बड़ी राहत महसूस की और अधिकांश लोग अपना कामकाज छोड़कर धूप सेंकने के लिए बैठ गए। पिछले एक सप्ताह से कड़ाके की सर्दी के कारण महिलाओं को कपड़े सुखाने में परेशानी आ रही थी।

महिलाओं ने झटपट अपने कपड़ों को सुखाना प्रारंभ कर दिया। धूप निकलने से सर्दी में गिरावट आने के साथ ही गंगा किनारे बालू की विशाल तलहटी में खेलने के लिए सैकड़ों बच्चे अलग-अलग टोलियों में बंटकर गिल्ली डंडा खेलने के लिए एकत्र हो गए। बालू के टापू पर दूर तक बच्चों के झुंड खेलते नजर आए। किसान भी अपने खेत में जाकर फसल को हुई क्षति का आंकलन करने लगे। कड़ाके की सर्दी के कारण चुनावी हवा की गति भी ठहरी हुई है। लोगों ने ईश्वर से कामना की है, कि अब सर्दी के प्रकोप से उन्हें छुटकारा दिलाए।

Edited By: Jagran