बुलंदशहर, जेएनएन। मंगलवार को डीएम ने विकास भवन और एआरटीओ का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान कार्यालयों में मिली अव्यवस्थाओं को देख डीएम ने अधिकारियों को फटकार लगाई, जबकि चार का वेतन काटने के आदेश भी जारी कर दिए।

जिलाधिकारी रविद्र कुमार ने विकास भवन स्थित एक दर्जन से अधिक कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान लघु सिचाई विभाग के सहायक अभियंता अनुराग गुप्ता के अनुपस्थित मिलने पर एक दिन का वेतन रोकने के निर्देश दिए। ग्रामीण अभियंत्रण सेवा के अधिशासी अभियंता राकेश कुमार जैन जिन पर इस जनपद का अतिरिक्त चार्ज है, लेकिन निर्धारित दिवसों पर अनुपस्थित पाये जाने पर उनका भी एक दिन का वेतन रोकने के निर्देश दिए। कौशल विकास मिशन कार्यालय में एमआइएस मैनेजर के अनुपस्थित मिलने पर एक दिन का वेतन रोकने के निर्देश दिए। इसके अलावा मुख्य पशु चिकित्साधिकारी कार्यालय में निरीक्षण के दौरान बिजली के अव्यवस्थित तारों के मिलने तथा गंदगी पाए जाने पर स्पष्टीकरण देने के लिए कहा। सेवायोजन कार्यालय में एक कर्मचारी किरन देवी के अनुपस्थित मिलने पर एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए। इसके साथ ही डीएम ने अर्थ एवं संख्याधिकारी, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, अनुसूचित जाति जनजाति वित्त विकास निगम, कृषि रक्षा अधिकारी कार्यालय, अल्पसंख्यक पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी सहित विभिन्न कार्यालयों का निरीक्षण कर निर्देशित किया। इससे पहले डीएम ने एआरटीओ का निरीक्षण किया और सुधार के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान सीडीओ सुधीर कुमार रूंगटा, नगर मजिस्ट्रेट विवेक कुमार मिश्र, डीडीओ एसपी मिश्र, पीडी सर्वेश चंद्र आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस