सिकंदराबाद : अलविदा जुमा की नमाज अता करने के लिए जामा मस्जिद समेत अन्य मस्जिदों पर रोजेदार उमड़ पड़े, जिन्होंने देश में अमन चैन की दुआ मांगी।

रमजान माह के आखिरी शुक्रवार को मस्जिदों अलविदा जुमा की नमाज को लेकर रोजेदारों की भीड़ उमड़ी। काजीबाड़ा स्थित जामा मस्जिद में मौलाना आरिफ ने रोजेदारों व अकीदतमंदों को नमाज अदा कराई। शाही इमाम मौलाना आरिफ ने अल्लाह के बताए रास्ते पर चलने की अपील करते हुए कहा कि रमजान माह में जुमा की नमाज का खास होती है। इस दिन जो अल्लाह से दिल से दुआ मांगी जाती है, उसे अल्लाह कबूल करते हैं। लेकिन दुआ मांगने वाले का दिल पाक साफ होना चाहिए। अलविदा जुमा के साथ ही रमजान अपने आखिरी पड़ाव पर आ जाता है। उन्होंने रोजेदारों को गरीबों की सेवा करने, बुरे काम को छोड़कर नेकी के रास्ते पर चलने का तकरीर कराई। बाद में देश में भाई चारा, अमन चैन की दुआ कराई। सुरक्षा को एसडीएम रवि शंकर सिंह, सीओ गोपाल सिंह, कोतवाल अवनीश गौतम समेत पुलिस बल मौजूद रहा। इस दौरान सिकंदराबाद नगर व देहात के साथ ककोड़ में भी रमजान के आखिरी जुमा की मस्जिदों में नमाज के लिए भारी तादात में रोजेदार उमड़े।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस