बुलंदशहर, जेएनएन। गोकशी की सूचना के बाद भड़की हिंसा में इंस्पेक्टर स्याना सुबोध कुमार सिंह की हत्या के मामले में मुख्य आरोपी बजरंगदल का जिला संयोजक योगेश राज खुद को बेकुसूर बता रहा है। आज उसने सोशल मीडिया पर अपनी सफाई में वीडियो भी डाला है। योगेश राज की तलाश में पुलिस की कई टीम लगी हैं, इसी बीच उसने सोशल मीडिया पर वीडियो डाउनलोड कर दिया है।

इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या में मुख्य आरोपी योगेश राज ने सोशल मीडिया पर आज वीडियो में अपना बयान डाला है। उसने कहा है कि मैं बेकुसूर हूं। इस घटना के वक्त में खुद कोतवाली में था। मुझे वहीं पर मेरी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने इंस्पेक्टर की मौत की जानकारी दी थी। वीडियो में योगेश राज कह रहा है कि बुलंदशहर के स्याना में हुए गोकशी मामले में पुलिस उसे इस तरह से पेश कर रही है कि जैसे कि उसका कोई बहुत बड़ा आपराधिक इतिहास हो।

इसी बीच आज योगेश राज का एक वीडियो व्हॉट्सएप पर वायरल हुआ है। इस वीडियो में योगेश राज खुद को निर्दोष बता रहा है। वीडियो में योगेश राज कह रहा है कि बुलंदशहर के स्याना में हुए गोकशी मामले में पुलिस उसे इस तरह से पेश कर रही है कि जैसे उसका कोई बहुत बड़ा आपराधिक इतिहास हो। मैं ये बताना चाहता हूं कि उस दिन दो घटनाएं घटित हुई थीं। पहली घटना स्याना के नजदीक एक गांव महाव में गोकशी को लेकर हुई थी। जिसकी सूचना पर मैं अपने साथियों के साथ पहुंचा था। वहां पर प्रशासनिक लोग भी पहुंचे थे। इस मामले को शांत करने के बाद हम सभी लोग स्याना थाने में अपना मुकदम लिखवाने आ गए थे।

योगेश राज आगे ने आगे कहा कि थाने में बैठे-बैठे जानकारी मिली कि ग्रामीणों ने पथराव कर दिया है। इस दौरान वहां फायरिंग हुई है, जिसमें एक युवक के साथ एक पुलिसवाले को भी गोली लगी है। योगेश पूछते हैं कि जब हमारी मांग पर मुकदमा स्याना थाने में लिखा जा रहा था, तब बजरंग दल आंदोलन क्यों करता। योगेश ने आगे कहा कि वह दूसरी घटना में मौके पर नहीं थे। उनका दूसरी घटना से कोई लेना-देना नहीं है। ईश्वर मुझे न्याय दिलाएंगे, मुझे भगवान पर पूर्ण भरोसा है।

योगेश राज ने ही सोमवार को गोकशी की एफआईआर दर्ज करवाई थी। इस वारदात के बाद से वह फरार चल रहा है, एडीजी लॉ एंड आर्डर आनंद कुमार भी मंगलवार को किए प्रेस कॉन्फ्रेंस में योगेश राज का नाम लेने से बचते नजर आए। तहरीर में तीन बार योगेश राज का नाम लिखा है। इस वायरल वीडियो में भी योगेश राज मृतक इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह से बहस करता नजर आ रहा है। बुलंदशहर हिंसा मामले में पुलिस ने अभी तक चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

मुख्य आरोपी बजरंगदल का जिला संयोजक योगेश राज वारदात के 48 घंटे बाद भी फरार है। योगेश राज पर पुलिस ने चुप्पी साध रखी है, वहीं विपक्ष सरकार पर हमलावर है। 

Posted By: Dharmendra Pandey