बुलंदशहर, जेएनएन। कोरोना वायरस को खत्म करने के लिए हर देशवासी खड़ा है। एक तरफ जहां लोग अपने घरों में रहकर कोरोना से जंग लड़ रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ लॉकडाउन के चलते प्रभावित हुए लोगों के बीच युवाओं की टोली एक-दो की संख्या में पहुंच रही है और उनकी सहायता कर रही है। इतना ही नहीं पैदल जा रहे राहगीरों की युवाओं ने खान-पान की व्यवस्था भी कराई।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 दिनों के लिए पूरे देश को लॉकडाउन कर दिया है। जिससे कोरोना वायरस को समाप्त करने की जंग लड़ी जा सके। ऐसे में मदद के लिए नव भारत सामाजिक विकास संस्था के कार्यकर्ता पूरी सुरक्षा के बीच निकलें हुए हैं। बुधवार को एक-दो की संख्या में कई टोलियां बनाकर कार्यकर्ता लोगों के घरों पर पहुंचे। जहां उनके द्वारा गरीबों को खाद्य सामग्री उपलब्ध कराई गई। जिससे वह भूखे ना रहे। वहीं जीटी रोड पर नेहरूपुर चुंगी के निकट संस्था के कार्यकर्ताओं को काफी लोग पैदल जाते हुए मिले। जिसमें हाथरस जनपद के गांव हिम्मतपुर बघराया संजय कुमार, वीरेश, विमल, शकुंतला समेत अन्य राहगीर शामिल थे। जिन्होंने बताया कि वह वाहन नहीं मिलने के कारण पैदल दिल्ली से अपने गांव जा रहे हैं। जिन्हें संस्था के कार्यकर्ताओं ने चाय और ब्रेड दिए। साथ ही रास्ते के लिए जरूरत की खाद्य सामग्री उपलब्ध कराई संस्था के अध्यक्ष बॉबी राणा ने बताया कि वह लगातार 21 दिनों तक ऐसे लोगों की मदद के लिए लगे रहेंगे। इसमें विकास भाटी, अनुज राजपूत, रविकांत, शैलेंद्र सिंह, साबुद्दीन आदि रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस