बिजनौर, जेएनएन। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (एनआरएलएम) से जुड़ी महिलाएं एक कार्यक्रम में नजीबाबाद गई थीं। वहां पर अफसरों के अभद्रता करने के विरोध में उन्होंने ब्लॉक परिसर में धरना दे दिया। इससे ब्लॉक अफसरों में हड़कंप मच गया। बाद में बीडीओ ने महिलाओं को समझा-बुझाया तथा अधिकारियों द्वारा वीडियो कॉलिग के जरिए माफी मांगने पर मामले का पटाक्षेप कराया।

मंगलवार को एनआरएलएम से जुड़ी महिलाएं बुधवार को एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए नजीबाबाद गई थी। आरोप है कि इस दौरान वहां के अधिकारियों ने इनके साथ अभद्रता करते हुए अशोभनीय व्यवहार किया। इससे नाराज महिलाओं ने बुधवार देर रात से ही ब्लाक परिसर में धरना-प्रदर्शन शुरु कर दिया था, जो गुरुवार को भी जारी रहा। महिलाओं का कहना था कि आरोपित अफसरों के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए। इस पर खंड विकास अधिकारी रोहिताश सिंह धरनास्थल पर पहुंचे और महिलाओं से वार्ता की। उन्होंने उन्हें समझाने-बुझाने का प्रयास किया, लेकिन वह मानने को तैयार नहीं थी। बाद में उन्होंने संबंधित अफसरों से वीडियो कॉलिग के जरिए माफी मंगवाई। इस पर महिलाएं शांत हुई तथा मामले का पटाक्षेप किया गया। इस अवसर पर प्रियंका रानी, नीतू, गीता, सुधा रानी, संगीता, विनीता, प्रेमलता, प्रीती, रेनू, रेखा,अंजू, मीना, ममता, अनीता, रूबी आदि उपस्थित रही।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस