बिजनौर, जागरण टीम। कालागढ़ स्थित रामगंगा बांध परियोजना की कालोनी के चौराहे को पार कर रहे जंगली हाथी को देखकर लोगों में दहशत फैल गई। हाथी के गुजरने के बाद लोग अपने-अपने गंतव्य की ओर गए।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार एक जंगली हाथी कार्बेट पार्क की दक्षिणी सीमा पर बसी हुई रामगंगा बांध परियोजना की नई कालोनी के मुख्य चौराहे से होते हुए जंगल की ओर निकल गया। नागरिकों का कहना है कि अक्सर जंगली जानवर भोजन की तलाश में आवाजाही करते हैं। उनका कहना है कि कई बार मांग किए जाने के बावजूद वन विभाग जंगली जानवरों की कालोनी से होकर की जा रही आवाजाही पर रोक लगाने में नाकाम रहा है। कालोनीवासियों को कहना है कि आए दिन जंगली जानवरों के कालोनी में घुस आने से लोगों में दहशत व्याप्त है। वन विभाग का कहना है कि जंगली जानवरों पर नजर रखने के लिए टीमें कालोनी में तैनात रहती है। गुलदार के हमले में बचा किसान

नहटौर क्षेत्र के गांव अमीनाबाद निवासी केशव चौहान गुरुवार शाम जंगल गया था। रास्ते में अचानक गुलदार ने उस पर झपट्टा मार दिया। वह बाल-बाल बच गया और उसने शोर मचा दिया। शोर सुनकर आसपास के खेतों में मौजूद ग्रामीण लाठी-डंडे लेकर मौके की ओर दौड़े, लेकिन तब तक गुलदार वहां से भाग गया। गुलदार के जंगल में होने से किसानों में भय व्याप्त हो गया। उन्होंने वन विभाग के अफसरों से गुलदार को पकड़वाकर वन क्षेत्र में छोड़े जाने की मांग की है। वन रेंजर संतोष मठपाल ने बताया कि उन्हें इस मामले की जानकारी नहीं है। कर्मचारियों को मौके पर भेजकर गुलदार की तलाश की जाएगी।

Edited By: Jagran