गुरु तेगबहादुर साहिब को किया नमन

बिजनौर,जेएनएन। निर्मला गोकुल सिंह यादव सरस्वती विद्या मंदिर में सिखों के नौवें गुरु श्री गुरु तेग बहादुर साहिब का बलिदान दिवस श्रद्धापूर्वक मनाया गया।

शनिवार को विद्यालय प्रांगण में प्रधानाचार्य ब्रजभूषण भारद्वाज की देखरेख में आयोजित कार्यक्रम में शिक्षक-शिक्षिकाओं एवं विद्यार्थियों ने गुरु तेगबहादुर साहिब के चित्र पर पुष्प अर्पित कर नमन किया। विशिष्ट अतिथि सोरन सिंह, प्रकाशवीर, कृष्ण कुमार ने दीप प्रज्ज्वलन किया। प्रधानाचार्य ने कहा कि गुरु तेगबहादुर ने देश की एकता और अखंडता की रक्षा के लिए अपने प्राणों की आहुति दे दी थी। उन्होंने हिदू धर्म की रक्षा के लिए अपना शीश तक कटवा दिया, लेकिन सत्य का मार्ग नहीं छोड़ा। कश्मीरी पंडितों की फरियाद पर तिलक और जनेऊ की रक्षा के लिए महान बलिदानी गुरु तेगबहादुर साहिब का यह बलिदान न केवल युगों-युगों तक याद रखा जाएगा, बल्कि इसका ऋण चुकाया नहीं जा सकता।

शिक्षक संजय सिंह के संचालन में आयोजित कार्यक्रम में छात्रा अंकिता तिवारी, हिमानी, इकरा आदि ने काव्यपाठ किया। कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान के साथ हुआ। इस मौके पर शिक्षक प्रमोद, पंकज, गोपेंद्र, आत्मस्वरूप, विकास, अभिनव, गौरव, नीरज, दिग्विजय, अमित, मृदुला, रजनी, फूलमाला, पूनम, कविता, नूतन आदि उपस्थित रहे। आयोजन में टीकम, बाबूराम, राजेंद्र, शकुंतला आदि का सहयोग रहा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस