बिजनौर, टीम जागरण। किरतपुर में बैंक आफ बड़ौदा से सटी गली में डूडा द्वारा बनाई गई सड़क बीस दिन में ही टूटने लगी। मोहल्ले वासियों ने आरोप लगाया कि सड़क निर्माण में मानक के अनुसार सामग्री का प्रयोग नहीं किया गया। इसलिए ही सड़क बीस दिन में ही टूट गई। उन्होंने डीएम से सड़क निर्माण की जांच कराकर ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

मोहल्ला उत्तरी चौहानान में बैंक आफ बड़ौदा वाली गली में बैक से श्री राम मंदिर होकर मुकुल सिघल के घर तक डूडा द्वारा लगभग बीस दिन पहले सड़क का निर्माण किया गया था। इस सड़क का निर्माण प्रदेश परिवहन मंत्री अशोक कटारिया के कोटे से कराया गया था। आरोप है कि सड़क निर्माण में ठेकेदार द्वारा मानक के अनुसार सामग्री न लगाने से सड़क जगह जगह से टूटने लगी। परिवहन मंत्री के कोटे से बनी सड़क का बीस दिन में ही टूटना आम जनता में चर्चा का विषय बन गई है।

मोहल्ले वासी मनोज अग्रवाल उर्फ डब्बू, मुकुल सिघल, संजय द्विवेदी, सूर्यदीप शर्मा, अजय अग्रवाल एवं बंटी अग्रवाल आदि ने बताया कि ठेकेदार द्वारा जब सड़क का निर्माण कराया जा रहा था, तो उससे कहा गया था कि मानक के अनुसार सामग्री का प्रयोग नही हो रहा है, लेकिन ठेकेदार ने मोहल्ले वासियों की नही सुनी तथा सड़क में मानक के अनुसार सामग्री का प्रयोग नहीं किया। मोहल्लेवासियों ने डीएम तथा परिवहन मंत्री से सड़क निर्माण की जांच कराने तथा ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई करने और सड़क को दोबारा बनवाने की मांग की है।

Edited By: Jagran