जेएनएन, बिजनौर। सांसद नगीना गिरीशचंद ने विकास भवन सभाकक्ष में शनिवार को हुई जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति की बैठक में प्रदेश एवं केंद्र सरकार की योजनओं को धरातल पर गुणवत्तायुक्त उतारने के लिए अधिकारी जन प्रतिनिधियों से स्थापित कऐं, ताकि इन योजनाओं का लाभ दूर.दराज के व्यक्तियों तक पहुंच सके। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी एवं ग्रामीण की समीक्षा के दौरान संबंधित अधिकारियों को निदेर्शित किया कि वह पात्रता के अनुसार मकान दिलाना और समाज कल्याण अधिकारी को पात्रता के आधार पर लाभार्थियों को पेंशन दिलाए। सांसद ने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में निर्मित सडकों की पूर्व जानकारी सांसदों को दिए जाने की हिदायत दी। वहीं उन्होंने मनरेगा से शौचालयों का निर्माण कराने की मांग की।

बैठक में सांसद नगीना गिरीश चंद एवं सांसद बिजनौर मलूक नागर ने मनरेगा, एनआरएलएमएम, डीडीयूजीकेवाई, पीएमजीएसवाई, एनएसपी, प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी, पीएमजीएसवाईजी, स्वच्छ भारत मिशन, एमबीएम, राष्ट्रीय ग्रामीण पेजयल कार्यक्रम, एनआरडी डब्ल्यूपी, पीएमकेएसवाई, एनएलआरएमपी, डीडीयूजीजेवाई, पीएम एफबीवाई, एनएचएम, कोविड19, आईसीडीएस, मिड-डे मिल स्कीम, पीएमयूवाई, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना, डिजिटल इंडिया, पब्लिक इंटरनेट एक्सेस प्रोग्राम प्रत्येक ग्राम पंचायत में सामान्य सेवा केन्द्र उपलब्ध कराना, पीएमकेकेकेवाई समेत विभिन्न योजनाओे की बिदुवारउ समीक्षा की। बैठक में सीडीओ कामता प्रसाद सिंह, परियोजना निदेशक विजय प्रकाश श्रीवास्तव सहित सभी संबंधित विभागीय अधिकारी मौजूद रहे। समर्पण निधि अभियान में जुटे श्रीराम भक्त

जेएनएन, बिजनौर। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के आह्वान पर राम भक्तों ने घर-घर जाकर श्रीराम मंदिर निर्माण हेतु सहयोग राशि एकत्रित की। राहुल त्यागी ने अपनी टोली के साथ विश्नोई सराय, विकास अग्रवाल ने केशव वस्ती, धर्मेन्द्र राठी सचिन शर्मा ने आजाद कालोनी, प्रदीप गर्ग, मोहित गोयल, सचिन रुहेला, विपिन विश्नोई, रामावतार विश्नोई, हर्ष गोयल ने वैष्णव विहार, सचिन गौड़, हेमन्त, देवेंद्र ने माधव बस्ती समेत नगर में श्रीराम भक्तों की टोली ने घर घर जाकर श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के पत्रक वितरित किए एवं सभी से अपेक्षा अनुसार सहयोग करने की अपील की।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021