बिजनौर, जागरण टीम। नजीबाबाद में फ्लाईओवर के ऊपर और दोनों छोर पर पुलिस ड्यूटी होने के बावजूद फ्लाईओवर पर लगने वाला जाम पुलिस व्यवस्था पर सवाल खड़ा कर रहा है। रोजाना दिन में कई-कई बार लगने वाले जाम से लंबी दूरी का यातायात तो प्रभावित है ही, स्थानीय लोग भी कम आहत नहीं हैं। गुरुवार दोपहर डबल फाटक फ्लाईओवर पर लगे जबरदस्त जाम से स्कूली बच्चों, शिक्षिकाओं, महिलाओं को काफी जूझना पड़ा। करीब आधे घंटे तक वाहन फ्लाईओवर पर रेंगते रहे। किसी पुलिसकर्मी ने जाम से निपटने में तत्परता नहीं दिखाई। दो राष्ट्रीय राजमार्गों से जुड़े डबल फाटक फ्लाईओवर से बिजनौर, कोटद्वार, हरिद्वार, मुरादाबाद का यातायात गुजरता है। इसके अलावा लाइन पार सघन आबादी क्षेत्र का भी फ्लाईओवर से ही नगर में आवागमन होता है। फ्लाईओवर पर रोजाना लग रहे जाम से आम नागरिक त्रस्त हैं और प्रशासन व पुलिस इसे लेकर गंभीर नहीं है।

-बोले नागरिक

फ्लाईओवर पर जाम के कारण फ्लाईओवर से जुड़े स्थानीय विभिन्न मार्गों से भी आवागमन प्रभावित होता है। रोजमर्रा के जीवन में इससे जूझना काफी कष्टदायक हो गया है।

-सौरभ अग्रवाल डबल फाटक फ्लाईओवर नगर के बीचोंबीच बना है। इसके ऊपर से ओवरलोड वाहन भी गुजर रहे हैं। फ्लाईओवर के ऊपर से डर-डर कर कब तक गुजरना होगा। प्रशासन को सोचना होगा।

-मुकेश कुमार जिन पुलिसकर्मियों को फ्लाईओवर पर लगाया जाता है, उन्हें और फ्लाईओवर से सटे सीकेआइ चौराहा व मालगोदाम तिराहा पर ड्यूटी दे रहे पुलिसकर्मियों को गंभीरता बरतनी होगी।

-संजय त्यागी फ्लाईओवर ही नहीं, उसके नीचे सर्विस रोड और नगर के प्रमुख चौराहों पर भी जाम का संकट कम नहीं हो रहा है। आम जनता के साथ साथ कारोबारी भी परेशान हैं।

-विवेक अग्रवाल

----------

इनका कहना है:

जाम किन कारणों से लग रहा है, इस पर गौर करते हुए समस्याओं से निजात दिलाने के प्रयास करेंगे।

-दिनेश गौड़, थाना प्रभारी नजीबाबाद

Edited By: Jagran