यातायात माह पहला दिन: फीता काटने व रैली तक सिमटा अभियान

बिजनौर,जेएनएन। यातायात माह का शुभारंभ शुक्रवार को हुआ। पहले दिन ही वाहन चालक नियमों व आदेशों की खूब धज्जियां उड़ाई। बिना हेलमेट के बाइक सवार दौड़ते रहे। वहीं तीन सवारी भी नियमों को चिढ़ाती रही। पुलिस भी अभियान में नजर नहीं आई। वाहन चालक मनमर्जी दौड़ते रहे।

शुक्रवार से शुरू हुए यातायात माह अभियान के मद्देनजर प्रदेश सरकार ने दुपहिया वाहन के लिए दो सवारियों के लिए हेलमेट अनिवार्य कर दिया। वहीं, अन्य नियमों में जहां बदलाव किया गया, वहीं कुछ आवश्यक अनिवार्यता भी लागू की गई। शुक्रवार को मुख्यालय पर जिलाधिकारी व पुलिस अफसरों ने यातयात माह का शुभारंभ किया। अफसोस पहले ही दिन सारे नियम व दावे हवाई साबित हुए। नाबालिग जहां बाइक व कार चलाते दिखाई दिए तो बाइक चुनिदा लोग ही बाइक पर हेलमेट का प्रयोग करते दिखाई दिए। चौंकाने वाली बात तो यह रही कि दोपहर बाद लोग व युवा वर्ग बाइक पर बिना हेलमेट प्रयोग किए ही ट्रिपिल राइडिग करते नजर आए। न तो कोई पुलिसकर्मी ही सड़क पर चेकिग करता दिखाई दिया। बाइक चलाते समय लोग मोबाइल फोन पर बात करते हुए गुजर रहे थे तो कार चालक भी बिना सीट बेल्ट लगाए ही फर्राटा भर रहे थे। कुल मिलाकर कह जाए तो यातायात माह के पहले ही दिन अधिकारियों ने लोगों को जागरूक करने के लिए कोई रूचि नहीं दिखाई। बिजनौर शहर समेत पूरे जिले में वाहन नियमों के अनदेखी से दौड़ते रहे। नतीजा यह है कि अभियान सिर्फ फीता काटने व रैली तक सिमट गया। उधर, सीओ राकेश श्रीवास्तव ने कहा कि एक या दो दिन बाद यहां भी अभियान शुरू करा दिया जाएगा। वहीं, पुलिस टीम भी विशेष चेकिग अभियान चलाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस