जेएनएन, बिजनौर। गांव पावटी में हाईवे पर दौड़ती एक कार अनियंत्रित होकर सड़क किनारे खड़े पेड़ से जा टकराई। हादसे में कार चालक और उसकी बहन की मौत हो गई, जबकि कार सवार एक महिला और दो मासूम बच्चों समेत चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को उपचार के लिए पहले हल्दौर सीएचसी और बाद में बिजनौर भिजवाया।

नहटौर थाना क्षेत्र के गांव शेखुपुरा लाला निवासी 29 वर्षीय अफजाल अपनी बहन 28 वर्षीय रोशन पत्नी उस्मान और उसके दो पुत्र ईशान व अरहान तथा स्वजन मुन्नी के साथ कार से बुधवार शाम करीब चार बजे बिजनौर से अपने गांव शेखुपुरा लाला जा रहे थे। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक मुरादाबाद-बिजनौर हाईवे स्थित गांव पावटी के निकट अचानक हाईवे पर दौड़ती कार अनियंत्रित होकर सड़क किनारे खड़े पेड़ से टकरा गई। इस हादसे में कार चालक अफजाल अहमद की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि कार सवार दो महिलाओं और दो मासूम बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों की चीख-पुकार सुनकर मौके पर लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई। लोगों ने बमुश्किल कार में फंसे घायलों को बाहर निकाला। दुर्घटना में कार भी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को उपचार के लिए एंबुलेंस से हल्दौर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भिजवाया, जहां चिकित्सकों ने मुन्नी और रोशन को गंभीर हालत में उपचार के लिए जिला अस्पताल रेफर कर दिया, जहां देर शाम रोशन ने भी दम तोड़ दिया। हादसे में घायल ईशान और अरहान सीएचसी में उपचार चल रहा है। पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भिजवाया है। थाना प्रभारी उदय प्रताप सिंह का कहना है कि स्वजन ने इत्तफाकन सड़क दुर्घटना होने की रिपोर्ट दर्ज कराई है।

Edited By: Jagran