जेएनएन, बिजनौर। जिले में सोमवार को कोरोनारोधी टीकाकरण के लिए 98 बूथ लगाए गए। जिलेभर में 8221 लोगों ने टीकाकरण कराया।

सोमवार को बिजनौर अरबन में नौ, चंदक क्षेत्र में आठ, जलीलपुर में नौ, धामपुर में 12, हल्दौर में सात, कासमपुरगढ़ी में छह, किरतपुर में छह, कोतवाली देहात में 14, नजीबाबाद में छह, नहटौर में आठ, नूरपुर में छह एवं स्योहारा ब्लाक में पांच स्थानों पर बूथ लगाए गये। सोमवार को नौ हेल्थ केयर वर्कर ने वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाई। पांच फ्रंट लाइन वर्कर ने पहली तथा सात ने दूसरी डोज लगवाई। 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के 1871 लोगों ने पहली डोज लगवाई। जबकि 45 से 60 वर्ष आयु वर्ग में 4134 लोगों ने पहली तथा 483 लोगों ने दूसरी डोज लगवाई। 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के 1513 लोगों ने पहली तथा 199 लोगों ने दूसरी डोज लगवाई। सोमवार को कुल 7523 लोगों ने पहली तथा 698 लोगों ने दूसरी डोज लगवाई। सोमवार को कुल 8221 लोगों ने कोरोनारोधी टीका लगवाया। जिले में मात्र तीन संक्रमित मिले, 50 सक्रिय रोगी

बिजनौर। जिले में कोरोना संक्रमण का कहर धीरे-धीरे थमता जा रहा है। सोमवार को मात्र तीन कोरोना संक्रमित मिले हैं, जबकि 11 स्वस्थ हुए है। सोमवार को किसी भी कोरोना संक्रमित के मरने की पुष्टि नहीं हुई है।

जिले में कोरोना संक्रमण अंतिम पायदान पर पहुंचा दिखाई देने लगा है। लगातार मरीजों की संख्या से स्वस्थ होने वालों की संख्या अधिक आ रही है। सोमवार को जिले में मात्र तीन नये संक्रमित मिले हैं। जिले में अब तक कुल 14708 मरीज मिल चुके हैं। सोमवार को 11 मरीजों के स्वस्थ होने के साथ ही अब स्वस्थ होने वालों की संख्या 14551 हो गई है। सोमवार को जिले में एक भी रोगी के मरने की पुष्टि नहीं हुई है। अब तक जिले में कुल 107 लोगों की कोरोना संक्रमण की चपेट में आकर मौत हो चुकी है। जिले भर से अब तक कुल 585313 लोगों के सैम्पल जांच को भेजे जा चुके हैं। इनमें से सीएमओ कार्यालय को 583891 लोगों की जांच रिपोर्ट सीएमओ कार्यालय को प्राप्त हो चुकी है। जांच रिपोर्ट के अनुसार अब तक 569211 लोग निगेटिव पाए गए र्है, जबकि 1422 लोगों को जांच रिपोर्ट का इंतजार है। जून माह में अब तक जिले में 122 लोग कोरोना संक्रमित पाये गये जबकि 459 लोग स्वस्थ हुए है। जून माह में तीन लोगों की कोरोना संक्रमण की चपेट में आकर मौत भी हुई है।

उधर, डीएम उमेश मिश्रा ने सोमवार को हुई समीक्षा बैठक में पाया कि निगरानी समितियों ने 31,867 घरों का सर्वे कर बुखार, खांसी, जुकाम से पीड़ित 156 व्यक्तियों को मेडिकल किट वितरित की। 16 ग्राम पंचायतों में सैनिटाइजेशन तथा 454 ग्राम पंचायत में लार्वा स्प्रे किया गया। आठ एल-टू अस्पतालों में उपलब्ध 298 में से 295 बेड खाली, इनमें आईसीयू एवं आक्सीजन बेड शामिल है। समीक्षा बैठक में ज्वाइंट मजिस्ट्रेट विक्रमादित्य मलिक एवं कंट्रोल सेंटर में कार्यरत अधिकारी एवं कर्मचारी शामिल हैं।

Edited By: Jagran