नजीबाबाद(बिजनौर): ग्रामीण क्षेत्र के राशन डीलरों को बदली व्यवस्था के अंतर्गत ई-पॉस मशीन संचालन का प्रशिक्षण दिया गया। एसडीएम ने स्पष्ट किया कि उनके द्वारा गोपनीय जांच कर राशन की कालाबाजारी करने वाले 18 राशन डीलरों को चिह्नित किया जा चुका है। इन राशन डीलरों के खिलाफ जल्द कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

ड्वाकरा हॉल में राशन डीलरों की बैठक में एसडीएम डा.पंकज वर्मा खासे सख्त नजर आए। उन्होंने कहा कि राशन डीलर कितना साफ-सुथरा काम करते हैं, यह तहसील में शिकायतें लेकर आने वाले बता देते हैं। एसडीएम ने कहा कि कुछ शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए गोपनीय जांच कराई गई है। जिसकी राशन डीलरों को भनक तक नहीं है। जांच में संबंधित राशन डीलरों द्वारा बड़े पैमाने पर गड़बड़ी सामने आई है। एसडीएम ने स्पष्ट किया कि फिलहाल भ्रष्ट आचरण वाले 18 राशन डीलर चिह्नित किए जा चुके हैं, अभी कई राशन डीलरों की कलई खुलनी बाकी है। फिलहाल चिह्नित किए राशन डीलरों के खिलाफ जल्द कार्रवाई होगी।

पूर्ति निरीक्षक अमित कुमार ने ग्रामीण क्षेत्रों के राशन डीलरों को ई-पॉस मशीन का प्रशिक्षण देते हुए ई-पॉस मशीन से ही राशन वितरित करने, अवशेष रहे पात्र परिवारों की सूची शीघ्र उपलब्ध कराने, सार्वजनिक वितरण प्रणाली को पारदर्शी बनाने, अवशेष यूनिटों के आधार पर कार्ड ¨लक करने की सलाह दी। बैठक में मशीन संचालन का प्रशिक्षण दिया गया। इस मौके पर पूर्ति लिपिक दीपिका शर्मा के अलावा ग्रामीण अंचलों के कई राशन डीलर मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप