सब हेड ::- भदोही में हादसे से हुई 150 मौतें, एक वर्ष में 90 ने हेड इंजरी से गंवाई जान

----------- क्रासर

- ज्यादातर हादसों में मौतों की वजह साबित हुआ नियमों का उल्लंघन

- हर साल मनाया जाता है सड़क सुरक्षा सप्ताह, फिर भी चेतना नहीं

---------------

केस 1 : जौनपुर के रामपुर थाना क्षेत्र के गोतापुर (गोपालापुर) गांव की प्रमिला देवी भाई राजकुमार के साथ स्कूटी से चौरी के कंतापुर जा रही थी। मथुरापुर के पास सड़क किनारे लगे मिट्टी के ढूहे से टकराकर गिर गई। पीछे बैठी प्रमिला सड़क पर जा गिरी। पीछे से आ रहा ट्रेलर कुचलते हुए आगे बढ़ गया। उसकी मौकै पर ही मौत हो गई, उसने हेल्मेट नहीं लगाया था। केस 2 : औराई थाना क्षेत्र के उगापुर के पास 12 मई को ट्रक की चपेट में आने से बाइक सवार अहमदगंज फुलवरिया गांव के लालजी की मौत हो गई। बेजवां अपनी बहन के यहां दाह संस्कार में शामिल होने जा रहे थे। हेल्मेट न लगाने की लापरवाही से हुई मौत चुभ रही थी कि सिर में हेल्मेट होता तो शायद जिदगी पर आफत न आती। केस 3 : ज्ञानपुर कोतवाली क्षेत्र के लक्ष्मनपट्टी देवनाथपुर के रवि विश्वकर्मा 21 मई को विकास मौर्य के साथ बारात से लौटकर घर जा रहे थे। घरांव के पास ट्रक की चपेट में आ गये, उसकी मौत हो गई थी। दुर्घटना में मौत का कारण सिर में चोट था। बाइक चलाते समय अगर हेलमेट का उपयोग करते तो शायद परिजनों पर विपत्ति का पहाड़ दंश न झेलना पड़ता। केस 4 : भदोही-दुर्गागंज मार्ग स्थित सियरहां के पास 21 मई को सगड़ी से टकराकर सिर के बल गिरे बाइक सवार आकाश सिंह की मौत हो गई थी। जौनपुर के सुरेरी गांव निवासी मृतक अगर बाइक का उपयोग करते समय हेल्मेट का प्रयोग किया होता तो शायद आज दुनिया में वह मौजूद होता।

-----------------

जागरण संवाददाता, ज्ञानपुर (भदोही) : सड़क सुरक्षा सप्ताह पूरा जिला मुख्यमंत्री के निर्देश पर मना रहा है। यातायात, परिवहन और प्रशासन को इसके लिए लाखों का बजट मिला है। रैली, गोष्ठी और नुक्कड़ नाटक के नाम पर खर्च भी होने लगे हैं। पहले दिन मंगलवार को न कार चलाते वक्त सीट बेल्ट चेक किये गये और न ही नियम विरुद्ध चलने वाले वाहन चालकों पर सख्ती की गई। पब्लिक भी ट्रैफिक नियमों को मानने में लापरवाही बरत रही है। विभाग पहले ही कोरम पूरा करते हुए दिखाई पड़ रहे हैं। यह स्थिति तब है एक वर्ष में 150 मौतें हादसे की वजह से हुई हैं। सड़कों पर जिदगी रहम मांगती हुई नजर आई हैं। 90 मौतें इसमें हेंड इंजरी की वजह से हुई है। इन सभी ने हेलमेट नहीं लगाया हुआ था। अब जरूरत है कि संबंधित विभाग लापरवाही छोड़ें और नियमों को कड़ाई से लागू करें। धरातल पर कार्रवाई करें और जनता भी सगज हो।

---------------

खतरे को दावत देकर पा कर रहे रेलवे फाटक : भदोही नगर का रेलवे फाटक ट्रेनों के आवागमन के लिए बंद है। दोनों तरफ वाहनों की कतार भी लगी है। बाइक सवार आड़ा तिरछा कर नीचे से बाइक निकालकर कई बाइक सवार फाटक पार कर रहे हैं। दुर्घटना को दावत दे रहे ऐसे लोगों पर कार्रवाई को लेकर प्रशासन की बेपरवाही से दुर्घटनाएं हो रही हैं।

------------

- सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत अभियान चलाकर लोगों कों वाहनों के प्रयोग के समय सुरक्षा को लेकर जागरूक किया जा रहा है। वाहनों की जांच के साथ नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई भी की जा रही है। --- शशिकांत, उप निरीक्षक, ट्रैफिक विभाग

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस