जागरण संवाददाता, चौरी (भदोही) : थाना क्षेत्र के जमुआं गांव में चारागाह की भूमि पर बने एक निजी विद्यालय भवन के कुछ कमरों को भारी पुलिस फोर्स के साथ रविवार को पहुंचे प्रशासन के अधिकारियों ने बुलडोजर चलाकर ध्वस्त करा दिया। उच्च न्यायालय के आदेश पर यह कार्रवाई की गई। इस दौरान कुछ लोगों े विरोध का प्रयास भी किया लेकिन पुलिस व पीएसी की सख्ती देखकर पीछे हट गए। कार्रवाई के चलते हड़कंप की स्थिति बनी रही।

विद्यालय के प्रबंधक बटुक प्रसाद यादव ने उच्च न्यायालय में वाद दाखिल कर कहा था कि गांव में सरकारी भूमि अराजी संख्या 380 पर बने विद्यालय भवन को वह खाली करना चाहते हैं। जिसमें कुछ लोग व्यवधान पैदा कर रहे हैं। मामले में मई 2019 में उच्च न्यायालय ने आदेश दिया कि सरकारी जमीन को अतिक्रमणमुक्त किया जाय। कोई कार्रवाई न होने पर पुन: न्यायालय द्वारा 10 अक्टूबर को जारी आदेश में जिलाधिकारी को निर्देशित किया गया कि भूमि को मुक्त कराकर तीन मार्च को उच्च न्यायालय में उपस्थित होकर अवगत कराए। इसके बाद रविवार को दोपहर में पहुंचे राजस्व निरीक्षक सिद्धिनाथ, लवकुश ने अतिक्रमण हटवाकर भूमि खाली कराने की कार्रवाई की। मौके पर उपनिरीक्षक इस्तियाक, रामप्रवेश, दयाशंकर चौहान, भरतलाल पांडेय सहित राजस्व कर्मी व पुलिस व पीएसी के जवान थे।

Edited By: Jagran