जागरण संवाददाता, ज्ञानपुर (भदोही) : रोजगार करने के नाम पर ऋण हासिल किया। अदायगी की बारी आई तो कन्नी काटने लगे। विभाग की ओर से बार-बार जारी किए जा रहे निर्देश के बाद भी अदायगी के प्रति कोई गंभीरता नहीं दिखाई गई। ऐसे बकाएदारों के खिलाफ अब पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी कार्यालय में शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। ऐसे 21 बकाएदारों को नोटिस जारी कर वसूली की तैयारी की गई है।

पिछड़ा वर्ग के युवाओं व जरूरतमंदों को रोजगार के लिए धन को लेकर कोई दिक्कत न आने पाए। पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग की ओर से टर्मलोन / मार्जिन मनी योजना के अंतर्गत ऋण उपलब्ध कराने की योजना संचालित है। इसके तहत रोजगार करने के लिए पहले ऋण हासिल किया गया। योजना के तहत 60 मासिक किश्तों में उसकी अदायगी की जानी थी लेकिन ऋण लेने के बाद लाभार्थियों द्वारा अदायगी के प्रति लापरवाही बरती जा रही है। पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी अजय कुमार सिंह ने बताया कि 21 बकाएदारों को नोटिस जारी की गई है। नोटिस प्राप्त होने के एक सप्ताह के अंदर उनके द्वारा अदायगी न की गई तो उनके खिलाफ आरसी जारी कराकर भू-राजस्व की तरह बकाए की वसूली की जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप