जागरण संवाददाता, ज्ञानपुर (भदोही) : महाराजा चेतसिंह जिला अस्पताल के पैथोलॉजी कंप्यूटर ऑपरेटर संग मारपीट के मामले में पुलिस की ओर से कार्रवाई नहीं किए जाने से आक्रोशित पैथोलॉजी कर्मियों ने सोमवार को कार्य बहिष्कार कर विरोध जताया। आंदोलित कर्मियों ने पुलिस पर मामले में हीलाहवाली व मामले को रफा-दफा कराने का आरोप लगाया। अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को पत्रक सौंपकर कार्रवाई की मांग की।

ज्ञानपुर स्थित जिला अस्पताल में शनिवार को कुछ लोगों ने अस्पतालकर्मी संग मारपीट की थी। लैब के कंप्यूटर ऑपरेटर जोरई गांव निवासी सुधांशु कश्यप ने सीएमएस को सोमवार को पत्रक सौंपकर आरोप लगाया कि शनिवार की दोपहर पुरानी बाजार निवासी एक युवक किसी महिला के खून जांच की रिपोर्ट मांग रहा था। उस समय तक जांच रिपोर्ट नहीं बनी थी। बनने के बाद देने के लिए कहा। तब तक मनबढ़ युवक जातिसूचक शब्दों का प्रयोग करने लगा। मना करने पर उसे मारपीट कर घायल कर दिया। घटना की सूचना कोतवाली पुलिस को दी गई। इसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। कर्मियों ने आरोप लगाया कि कोतवाली पुलिस आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई की बजाए मामले को सलटाने का दबाव बना रही है। कार्य बहिष्कार कर चेतावनी दी कि जब तक कार्रवाई नहीं की जाती वे जांच का कार्य नहीं करेंगे। उधर खून आदि की जांच न होने से अस्पताल आए मरीजों को दिक्कत उठानी पड़ी। विरोध जताने में प्रमोद कुमार, रोहित दुबे, ओमप्रकाश कन्नौजिया व सुदीप कुमार दुबे आदि थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस