जागरण संवाददाता, भदोही : जनता की समस्याओं के त्वरित निस्तारण हेतु शासन द्वारा विशेष दिवसों का आयोजन किया जाता है लेकिन इसे विडंबना ही कहा जाएगा कि इसका लाभ जनता को नहीं मिल रहा है। इसकी नजीर भदोही में मंगलवार को आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस पर उस देखने को मिला जब एक दिव्यांग दंपती अपनी विपदा लेकर पहुंचा।

मूंसीलाटपुर निवासी दिनेश कुमार ने बताया की पति व पत्नी दोनों हाथ-पांव से दिव्यांग हैं। उनके पास न रहने को घर है न ही पीने को पानी की सुविधा। शौचालय भी उनके पास नहीं है। सरकारी सुविधाएं क्या होती हैं उक्त परिवार को पता ही नहीं। बताया कि मांग करते-करते थक गया, लेकिन अधिकारियों ने सुना ही नहीं। राहत की बात है कि दिवसाधिकारी राम¨सह वर्मा ने मामले को गंभीरता से लेते हुए सम्बंधित विभाग को तत्काल जांचोपरांत लाभांवित कराने का निर्देश दिया। कहा कि दिव्यांग दंपती को शासन द्वारा प्रदत्त सुविधाएं हर हाल में मिलनी चाहिए।

इस तरह कई बार अधिकारियों के चक्कर काटने के बाद पहुंचे रामरायपुर निवासी एक किसान ने भूमाफियाओं से अपनी भूमिधरी बचाने गुहार लगाई। किसान बंशराज पाल व धर्मराज पाल ने प्रार्थना पत्र में कहा कि गांव में प्रार्थी व अन्य परिवार सौ वर्ष से आबाद है लेकिन भूमाफिया एक गोल बनाकर आए दिन परेशान करते हैं। किसान ने अपनी जमीन व परिवार के जान माल सुरक्षा की अधिकारियों से गुहार लगाई है। इस तरह से अनगिनत लोग हैं जो लगभग सभी विशेष दिवसों पर अपनी उपस्थिति तो दर्ज कराते हैं लेकिन समस्याओं का समाधान नहीं होता।

By Jagran