जागरण संवाददाता, ज्ञानपुर (भदोही) : मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत पिछले दिनों संपन्न कराए गए 100 जोड़ों की शादी में शामिल लाभार्थियों (कन्या) के खाते में जल्द ही 35,000 रुपये की धनराशि पहुंचेगी। उनके खाते में अनुदान राशि भेजने व शादी समारोह के दौरान उपहार सामग्री देने वालों व टेंट, भोजन आदि की व्यवस्था करने वाले लोगों के भुगतान के लिए खंड विकास अधिकारी व अधिशासी अधिकारियों के खाते में कुल 51 लाख रुपये भेजा जा चुका है। साथ ही उन्हें धनराशि लाभार्थियों के खाते में प्राथमिकता पर भेजने का निर्देश दिया गया है।

गरीब परिवार की बेटियों के हाथ भी पीले हो जाय। उनकी शादी में किसी तरह की आर्थिक दिक्कत न आने पाए, शासन स्तर से मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना का संचालन किया जा रहा है। इसके अंतर्गत गत 22 अक्टूबर को काशी नरेश राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय ज्ञानपुर में आयोजित समारोह में 100 जोड़ों (98 विवाह व दो निकाह) संपन्न कराया गया था। समारोह स्थल पर वर-वधु को उपहार सामग्री उपलब्ध करा दी गई थी लेकिन कन्या के खाते में जाने वाली धनराशि नहीं भेजी जा सकी थी। हालांकि 51 लाख रुपये का अब बजट अवमुक्त हो चुका है तो उसे खंड विकास अधिकारी व नगरीय लाभार्थियों के लिए अधिशासी अधिकारियों के खाते में भेजा जा चुका है। समाज कल्याण अधिकारी महेंद्र यादव ने बताया कि योजना के तहत 51 हजार में से 35,000 रुपये कन्या के खाते में दिया जाना है। जबकि 10 हजार में उपहार सामग्री व छह हजार रुपये टेंट, नाश्ता, भोजन आदि की व्यवस्था में खर्च किया जाना है। भेजी गई धनराशि में से कन्या के खाते में जाने वाले निर्धारित राशि के अलावा शेष धनराशि से उपहार देने व व्यवस्था करने वालों के खाते में भेजने का निर्देश दिया गया है।

Edited By: Jagran