जागरण संवाददाता, गोपीगंज (भदोही) : नाला निर्माण को लेकर किसानों के विरोध के चलते आखिरकार रविवार को एनएचएआइ ने घुटने टेक दिए। पहुंचे अधिकारियों ने 20 गांवों के जल निकासी के बंद किए गए नाला निर्माण के लिए हामी भर दी है। नाला बनाने की उम्मीद जगने पर किसानों ने खुशी जाहिर किया है।

राष्ट्रीय राजमार्ग निर्माण के दौरान एनएचएआइ कर्मियों ने बाहा बंद कर दिया था। जिससे बारिश के मौैसम में गांवों में पानी भर गया था, तो फसलें डूब गईं थी। फसल चौपट होने से ग्रामीणों के सामने लाचारी का संकट छा गया। प्रशासनिक स्तर से समस्या का समाधान न होने पर नाला निर्माण की मांग को लेकर ग्रामीणों ने उग्र आंदोलन, अनशन व विरोध प्रदर्शन कई दिनों तक किया। किसानों के दबाव से आखिरकार शनिवार को एडीएम राम सिंह वर्मा व एसडीएम औराई ने निरीक्षण किया। ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि अब एनएचआई गांव का पानी निकलने के लिए गहरा नाला का निर्माण कराएगी। यह जानकारी होने पर किसानों ने खुशी जताई है। राष्ट्रीय राजमार्ग के प्रोजेक्ट मैनेजर श्रीनिवास राव, लाईजिग अधिकारी व अवर अभियंता ने रविवार को निरीक्षण कर पानी निकासी के लिए किसानों की सुविधानुसार नाला निर्माण का खाका खींचा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस