जागरण संवाददाता, ज्ञानपुर (भदोही) : तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हें आजादी दूंगा का नारा देकर आजादी की लड़ाई में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करने वाले क्रांति कारी नेताजी सुभाषचंद बोस की जयंती गुरुवार को पूरे जोश के साथ मनाई गई। शिक्षण संस्थानों से लेकर संगठनों की ओर से आयोजित कार्यक्रमों में उनके त्याग पर प्रकाश डाला गया तो सिद्धांतों को आत्मसात करने के संकल्प लिया गया।

पूर्व माध्यमिक विद्यालय ज्ञानपुर में आयोजित कार्यक्रम में बच्चों को नेताजी के बारे में अखिलेश कुमार यादव ने विस्तार से जानकारी दी। साथ ही उनके चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किया। प्रधानाध्यापिका सतगुरुप्यारी श्रीवास्तव ने बच्चों को उनके सिद्धांतों को आत्मसात करने का संकल्प दिलाया। इस मौके पर विमल मिश्र व अन्य शिक्षक-बच्चे थे। नेहरू युवा केंद्र के तत्वावधान में नेताजी सुभाषचंद बोस की जयंती मनाई गई। उनके योगदान पर चर्चा करते हुए कहा कि नेताजी द्वारा देश की आजादी के लिए आजाद हिद फौज का गठन किया था। जिसके जरिए उन्होंने अंग्रेजो को कड़ी टक्कर दी। इसी तरह अन्य शिक्षण संस्थानों में भी नेताजी की जयंती उनके योगदान की चर्चा करके मनाई गई।

-----------

क्रास कंट्री रेस : रविद्र व अनीता को प्रथम स्थान

- नेताजी सुभाषचंद बोस की जयंती के उपलक्ष्य में चकवा महावीर मंदिर से राजकीय इंटर कालेज तक आयोजित क्रास कंट्री रेस (छह किमी) में बालक वर्ग में रविद्र कुमार पटेल को प्रथम स्थान मिला। माताचरण बिद-द्वितीय, कुलदीप सिंह-तृतीय, विराट यादव-चौथे स्थान पर रहे। बालिका वर्ग में अनीता पटेल, यमुना बिद, भूमि सिंह व स्वाती सिंह ने क्रमश: प्रथम, द्वितीय, तृतीय व चतुर्थ स्थान प्राप्त किया। इसके पूर्व मंदिर से अंतर्राष्ट्रीय एथलीट महादेव प्रजापति ने रेस का शुभारंभ किया। समापन मौके पर मुख्य अतिथि प्रेमचंद पाल ने सफल धावकों को पुरस्कृत किया। इस मौके पर रामआसरे सिंह, राकेश पाल, कैलाशनाथ पाल, अमित यादव, विजय त्रिपाठी, रवि चौरसिया आदि थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस