जागरण संवाददाता, ज्ञानपुर (भदोही) : भदोही में दिनदहाड़े दुस्साहसिक तरीके से पांच अगस्त को बाइक सवार बदमाशों ने कैश वैन से 20 लाख लूट कर फरार हो गए। एसटीएफ और क्राइम ब्रांच के अलावा पुलिस क्षेत्राधिकारियों की टीम लगा दी गई। धीरे-धीरे एक पखवारे से अधिक समय बीत गया। बदमाशों का पुलिस सुराग भी नहीं लगा पाई। जनपद में इस तरह की कई घटनाएं हैं जिसका खुलासा कराना नवागत एसपी रामबदन सिंह के सामने चुनौती होगी। जिले में बेलगाम अपराध और अपराधियों पर लगाम नहीं लग पा रहा है। छिनैती और चोरी की घटनाओं का तो पुलिस पहले प्राथमिकी दर्ज नहीं करती है।

------------

केस 1 : भदोही में पांच अगस्त को पिपरिस रोड पर दिनदहाड़े लुटरों ने कैश वैन से 20 लाख लूटकर फरार हो गए थे। बदमाशों ने इस वारदात को उस समय अंजाम दिए थे जिस दिन पूरे देश में अलर्ट जारी किया गया था। केस 2 : फरवरी माह में दुर्गागंज में युवती की हत्या कर शव को रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया गया था। पुलिस हत्यारोपित के खिलाफ पांच हजार का इनाम भी घोषित कर चुकी है लेकिन अभी तक उसकी गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। केस 3 : गोपीगंज थाना क्षेत्र में 12 अगस्त को बिहरोजपुर गांव में पुरुषोत्तम गिरी के घर में छत के रास्ते घुसकर कर हजारों का माल चोर उठा ले गए थे। इसी गांव में एक दिन पहले ताला तोड़ककर चोर लाखों का माल साफ कर दिए थे। पुलिस अभी तक खुलासा नहीं कर सकी है। केस 4 : सुरियावां थाना क्षेत्र के दशरथपुर में 16 अगस्त को शंभूनाथ पांडेय के घर का ताला तोड़कर दो लाख रुपये से अधिक का माल उठा ले गए थे। पुलिस मामले में मुकदमा दर्ज करने के बाद भी खुलासा नहीं कर सकी है। केस 5 : नगर क्षेत्र के गोयल गली में स्थित अधिवक्ता शिवकुमार श्रीवास्तव के मकान का ताला तोड़कर चोरों ने हजारों का माल उठा ले गए थे। बीच बाजार में हुई इस वारदात से नगर के व्यवसायी दहशत में हैं। केस 6 : कलनुआ गांव में 21 अगस्त को कजरी सुनने गए मजदूर संजय चौधरी (50) अज्ञात बदमाशों ने दुस्साहसिक तरीके से मारपीट कर हत्या कर दिया था। अभी तक पुलिस हत्यारोपितों की गिरफ्तारी नहीं कर सकी है।

Edited By: Jagran