जासं, भदोही : स्थान: नगर पालिका परिषद कार्यालय: दिन: शनिवार: समय दोपहर एक बजे। एक कक्ष में तीन कर्मचारी मौजूद। इसमें एक कर्मचारी मास्क लगाए था जबकि दो बिना मास्क के काम करते मिले। सामने बैठे दो आगंतुकों में भी किसी ने मास्क नहीं लगाया था। कक्ष में सैनिटाइजर भी उपलब्ध नहीं था। हालांकि जागरण टीम को देखते ही कर्मचारी अपने-अपने जेब में रखे मास्क को लगा लिया। उधर पालिका के किसी कार्यालय में प्रवेश से पहले स्कैनिग की कोई व्यवस्था नहीं थी।

कोविड-19 को लेकर की जा रही सावधानी व सुरक्षा कागजों में अधिक हकीकत में कम दिख रही है। शासन के दिए गए निर्देशों की हकीकत देखने जागरण टीम शनिवार को कई दफ्तरों में पहुंची तो गाइडलाइन की धज्जियां उड़तीं दिखीं। वैश्विक महामारी पर अंकुश लगाने के लिए शासन स्तर से जारी गाइडलाइन का पालन करने में जनता द्वारा जहां लापरवाही बरती जा रही है वहीं जिम्मेदार अधिकारी भी गाइडलाइन की अनदेखी कर रहे हैं। कलेक्ट्रेट से लेकर तहसील और सार्वजनिक स्थानों पर कर्मचारी और अन्य लोग मास्क का प्रयोग नहीं कर रहे हैं। अधिसंख्य कार्यालयों में न तो स्वास्थ्य परीक्षण की व्यवस्था है न ही शारीरिक दूरी का पालन किया जा रहा है। इसके कारण संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ रहा है। शासन की ओर से कोविड-19 को लेकर गाइडलाइन में साफ तौर से आवश्यक शर्तों पर करने का फरमान जारी किया है।

-

सतर्क दिखा विद्युत विभाग

विद्युत आपूर्ति व कार्यशैली को लेकर सुर्खियों रहने वाला विद्युत विभाग कोविड-19 को लेकर गंभीर दिखा। भुगतान के लिए लगी भीड़ के बीच शारीरिक दूरी के पालन में लारपवाही देखने को मिली लेकिन कार्यालयों में 95 फीसद कर्मचारी मास्क से लैस मिले। एक्सइएन कार्यालय के बाहर स्कैनिग और कार्यालयों में सैनिटाइजर की उपलब्धता सुनिश्चित की गई थी। एक्सइएन रामकुमार ने बताया कि भुगतान काउंटर पर रस्सी बांध कर शारीरिक दूरी का पालन कराया जा रहा है। हालांकि कुछ लोग लापरवाही भी बरत रहे हैं।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस