जासं, भदोही : वाहन के धक्के से क्षतिग्रस्त रेलवे फाटक मरम्मत कार्य के कारण शनिवार को गजिया फाटक पर घंटों जाम की स्थिति रही। इस दौरान गेट के दोनों ओर वाहनों की लंबी लंबी कतार लग गई थी। राहत की बात यह है कि इसके कारण किसी ट्रेन का परिचालन बाधित नहीं हुआ।

रेलखंड स्थित गेट संख्या (31) का बूम गत शुक्रवार की देर रात आटो के धक्के से क्षतिग्रस्त हो गया था। इस बीच विभागीय कर्मचारियों को सूचित कर गेटमैन ने वैकल्पिक बूम का उपयोग किया तथा ट्रेनों का परिचालन काशन के सहारे किया गया। शनिवार को सुबह वाराणसी से पहुंचे विभागीय कर्मचारियों ने स्थानीय कर्मचारियों के साथ मिलकर मरम्मत कार्य शुरू किया। घंटों की मशक्कत के बाद बूम को दुरुस्त किया गया। हालांकि सेटिग करने के दौरान लगभग एक घंटे तक अनवरत गेट बंद रहा। इसके कारण फाटक पर दोनों ओर वाहनों का जमावड़ा लग गया। दोपहर लगभग डेढ़ बजे गेट खुलने के बाद भी जाम से मुक्ति मिलने में घंटों लग गए।

इस बाबत स्टेशन मास्टर आलोक कुमार ने बताया कि देर रात वाहन के धक्के से बूम क्षतिग्रस्त हो गया था। बताया कि इसके कारण किसी ट्रेन का परिचालन बाधित नहीं हुआ। हालांकि सावधानी बरतते हुए फ्लैट बूम लगाकर सभी गाड़ियों को काशन के सहारे पास किया गया। उधर आरपीएफ ने बूम क्षतिग्रस्त करने वाले आटो को कब्जे में ले लिया है। हालांकि चालक फरार हो गया था। चौकी इंचार्ज अनिल कुमार सिंह के अनुसार अज्ञात चालक के खिलाफ रेलवे एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

Posted By: Jagran