जागरण संवाददाता भदोही : कालीन नगरी के एक होटल में बम व असलहों के साथ बदमाश ठहरे हुए हैं। रामनवमी के अवसर पर मां ¨वध्यवासनी धाम पर बड़ा कांड कर सकते हैं। इस आशय की सूचना मिलते ही शनिवार को पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। पुलिस ने तत्काल उक्त होटल में छापेमारी कर दी। होटल में ठहरे आधा दर्जन लोगों को हिरासत में ले लिया गया। हालांकि खोदा पहाड़ निकली चुहिया की तर्ज पर सभी मां ¨वध्यवासिनी के श्रद्धालु निकले तथा देवरिया से दर्शन पूजन के लिए आए थे।

शहर कोतवाल एमके पांडेय के अनुसार शनिवार को सुबह एक व्यक्ति ने डायल 100 को फोन कर बताया कि भदोही के स्टेशन रोड स्थित एक होटल में आधा दर्जन बदमाश बम व असलहों के साथ ठहरे हैं। उनकी योजना रामनवमी के अवसर पर ¨वध्याचल में धमाका करने की है। यह सूचना मिलते ही पुलिस विभाग सक्रिय हो गया तथा आनन फानन में होटल में छापेमारी की गई। इस दौरान आधा दर्जन लोगों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। सभी की तलाशी तथा पूछताछ के बाद जो कहानी सामने आई उसे सुनकर पुलिस ने राहत की सांस ली। कोतवाल के अनुसार देवरिया से छह लोगों का ग्रुप मां ¨वध्यवासिनी के दर्शन को निकला था। अधिक रात होने के कारण स्टेशन रोड स्थित होटल में कमरा बुक कर रात ठहरने की योजना बनाई गई। इस दौरान सभी ने छक कर शराब पिया तथा नशे में धुत होने के बाद आपस में मारपीट कर लिया। बहरहाल रात तो जैसे तैसे कट गई लेकिन सुबह भी आपस में विवाद हुआ। इस दौरान उन्ही में से एक युवक ने बाहर निकल कर डायल सौ नंबर को फोन कर उक्त सूचना दी। इसके बाद बाद वह मोबाइल बंद कर फरार हो गया।

क्षेत्राधिकारी अभिषेक पांडेय की उपस्थिति में हिरासत में लिए गए सभी युवकों से पूछताछ तथा सत्यापन के बाद दोपहर में उन्हें छोड़ दिया गया। पुलिस का कहना है कि उनके पास न तो कोई आपत्तिजनक सामान मिला न ही किसी प्रकार के असलहे आदि बरामद हुए। बताया कि देवरिया पुलिस के माध्यम से उनका सत्यापन करने के बाद छोड़ दिया गया। हालांकि उक्त सारी कार्रवाई गुप्त रूप से होने के कारण किसी को कानों कान खबर नहीं हो सकी।

Posted By: Jagran