जागरण संवाददाता, ज्ञानपुर (भदोही) : सदर विधायक विजय मिश्र और महामंत्री राजेंद्र दुबे का ऑडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल होते ही भाजपा में भूचाल आ गया। 20 मिनट के आडियो में औराई विधायक, भाजपा जिलाध्यक्ष सहित कई नामचीन पदाधिकारियों पर रिश्ता-नाता जोड़ते हुए परोक्ष- अपरोक्ष रूप हमला बोला गया है। जिले भर के हर चट्टी- चौराहों के साथ ही सरकारी-अ‌र्द्ध सरकारी के साथ सियासी दफ्तरों में खूब चटकारे लिए जा रहे थे। कोई वायरल करने वाले भाजपा नेता की विश्वसनियता पर सवाल उठाता फिर रहा था तो कोई लाग-लपेट की बात कर नाम लेने से कतराते रहे। हालांकि ज्ञानपुर स्थित एक प्रतिष्ठान में आनन-फानन पदाधिकारियों की बैठक बुलाई गई। काफी देर तक चली बैठक में मुखर होने की रणनीति तैयार की गई।

भाजपा जिलाध्यक्ष चुनाव को लेकर सियासी गर्माहट भले ही नामांकन के बाद ठंडा पड़ गया हो लेकिन भाजपा महामंत्री और ज्ञानपुर विधायक की आडियो सोशल मीडिया पर वायरल होते ही घमासान मचा हुआ है। ऑडियो में भाजपा जिलाध्यक्ष हौसिला प्रसाद पाठक, औराई विधायक दीनानाथ भाष्कर, बालदत्त पांडेय, डा.आनंद मिश्र, डा. राकेश दुबे, श्रीनिवास चतुर्वेदी, भदोही विधायक रवींद्रनाथ त्रिपाठी सहित कई नामचीन हस्तियों का नाम लिया गया है। भाजपा नेत्री का नाम आते ही सियासी पारा और चढ़ गया। जिले में राजनीतिज्ञ चेहरों के अलावा आम जन तक आडियो पहुंच चुका है। आडियो को सुनकर लोग तरह-तरह के चटखारे ले रहे हैं। डा. आनंद मिश्र ने बताया कि बैठक बुलाई गई थी लेकिन वैवाहिक कार्यक्रम में व्यस्तता के चलते पहुंच नहीं पाया। पदाधिकारी जो निर्णय लेंगे उनके साथ खड़े रहेंगे। रही बात ज्ञानपुर विधायक की तो वह दूर-दूर तक मेरे रिश्तेदार नहीं हैं। डा. राकेश दुबे ने बताया कि बैठक में बस आडियो क्लिप को लेकर चर्चा हुई। भाजपा नेत्री के विषय में कुछ अपशब्द बोले गए हैं। इसकी शिकायत वही कर सकती हैं। विधायक से दूर-दूर तक मेरा संबंध नहीं रहा है। उधर विधायक विजय मिश्र ने बताया कि आडियो- विडियो का कोई मतलब नहीं है। साजिश के तहत आडियो को कांट- छांट कर वायरल किया गया है। वायरल करने के पीछे उनकी क्या मंशा है यह समझ के परे है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस