जासं, भदोही: क्षेत्र के पिपरी मौर्या बस्ती स्थित प्राचीन कुआं एक सप्ताह से रहस्य का विषय बना है लेकिन प्रशासन सिर्फ हीलाहवाली से काम चला रहा है। डीएम के आदेश पर तीन दिन पहले तहसीलदार व बीडीओ ने मौका मुआयना किया था। इस दौरान सुरक्षा के मद्देनजर कुएं के इर्द गिर्द बांस बल्ली लगाकर बैरिकेडिग की गई थी। रहस्य जानने के लिए कुएं के आसपास खुदाई कराने की योजना बनी थी लेकिन इसे दुर्भाग्य ही कहा जाएगा कि अब तक जेसीबी की व्यवस्था नहीं की जा सकी। उधर किसी अनहोनी को लेकर ग्रामीण में अनजाना भय व्याप्त है।

उक्त कुएं के आसपास कंपन व डरावनी आवाज आने जैसी अफवाहों के कारण इन दिनों उक्त कुआं क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है। गत सोमवार को जिलाधिकारी राजेंद्र प्रसाद ने मामले का संज्ञान लेते हुए तहसीलदार भगवानदास गुप्ता व बीडीओ कमलजीत सिंह को मौके पर भेजा था। अधिकारी द्वय ने मौका मुआयना कर बताया था कि कुआं धंस रहा है इसके कारण कंपन महसूस हो सकती है। अधिकारियों ने मंगलवार को जेसीबी के माध्यम से खुदाई कराने का भरोसा दिलाया था। बुधवार की शाम तहसीलदार श्री गुप्ता पुन: गांव पहुंचे। उन्होंने ग्राम प्रधान से जेसीबी के बारे में पूछा तो पता चला कि जेसीबी मिल नहीं रही है। उन्होंने कोतवाल भदोही को फोन कर गुरुवार को हर हालत में जेसीबी की व्यवस्था करने को कहा। कहा कि जेसीबी से आसपास खुदाई कराने के बाद ही वास्तविकता का पता चलेगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप