जागरण संवाददाता, ज्ञानपुर (भदोही) : सरकारी राशन की दुकानों पर मई और जून में 2.12 लाख राशन कार्डधारकों में प्रति यूनिट पांच किलो चावल और गेहूं वितरित किया जाएगा। दुकानों पर शारीरिक दूरी बनाए रखने और भीड़ नियंत्रित करने के लिए टोकन सिस्टम प्रभावी करने का निर्देश दिया है। जिला पूर्ति अधिकारी सीमा सिंह ने चेताया है कि दुकानदार कोविड गाइडलाइन का कड़ाई से पालन कराएंगे। इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

डीएसओ ने बताया कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत अंत्योदय और पात्र गृहस्थी के राशन कार्डधारकों को प्रति यूनिट तीन किलो गेहूं और दो किलो चावल दिया जाएगा। पात्र एवं अंत्योदय कार्डधारकों के लिए मई में 7,35, 929.76 टन और उतना ही जून में वितरित करने के लिए आवंटन किया गया है। आवंटित खाद्यान्न का चरण बद्ध तरीके से उठान कराया जाएगा। किसी भी दशा में दोनों चरणों का उठान 31 मई तक कर लिया जाए। दुकानों पर भीड़ अधिक न हो इसलिए रोस्टर के हिसाब से राशन का वितरण किया जाएगा। कोटेदारों को हिदायत दी कि किसी भी दशा में दुकान पर भीड़ नहीं लगनी चाहिए। राशन कार्डधारकों की संख्या के हिसाब से जरूरत हो तो अभी से टोकन देना शुरू कर दें। इसमें किसी भी प्रकार से लापरवाही नहीं होनी चाहिए। बताया कि राशन वितरण के लिए पर्यवेक्षणीय के साथ ही साथ नोडल अधिकारियों को भी लगाया गया है। अंत्योदय कार्डधारकों को मिलेगा तीन माह तक चीनी

जिले के अंत्योदय श्रेणी के लाभार्थियों को अप्रैल जून तक के लिए 12,283.450 मीट्रिक टन चीनी का आवंटन कर दिया गया है। जिला पूर्ति अधिकारी ने बताया कि लाभार्थियों को 18 रुपये प्रति किलोग्राम के दर से दिया जाएगा। वितरण में किसी भी प्रकार की धांधली न हो इसलिए त्रिस्तरीय जांच अधिकारी नियुक्त किए गए हैं। वितरण पर उनकी कड़ी नजर रहेगी।