बस्ती : शहर में प्रवेश का प्रमुख मार्ग द्विजेश मार्ग पचपेड़िया की बदहाली पर बुधवार को युवा कांग्रेसियों का आक्रोश सड़क पर उतर आया। मार्ग जाम कर धरना पर बैठ गए, इससे आवागमन प्रभावित रहा। घंटों जाम के चलते राहगीरों को परेशानी हुई। बाद में प्रशासन और पुलिस के हस्तक्षेप के बाद जाम को हटा। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कहा कि नगर पालिका प्रशासन की उदासीनता के चलते इस मार्ग का यह हाल हुआ है। भ्रष्टाचार के चलते नई बनी सड़क अब चलने लायक नहीं रह गई है।

युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव अंकुर वर्मा के नेतृत्व में कांग्रेस पदाधिकारी और कार्यकर्ता समेत नागरिकों ने पचपेड़िया मार्ग बुधवार को दोपहर में जाम कर दिया। नगर पालिका के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। आरोप लगाया कि निर्माण में जमकर धांधली हुई है, इसी कारण सड़क बनने के महीने भर बाद ही टूटकर जगह-जगह गड्ढों में तब्दील हो गई। आए दिन राहगीर घायल हो रहे हैं। इस मार्ग का निर्माण कार्य जल्द न शुरू हुआ और दोषियों पर कार्रवाई नहीं की गई तो बड़े आंदोलन के लिए बाध्य होना पड़ेगा। राष्ट्रीय सचिव ने कहा कि प्रमुख मार्ग होने के बाद भी नपा की चुप्पी समझ से परे है। जिलाध्यक्ष आदित्य त्रिपाठी ने कहा कि सड़क निर्माण में जमकर खेल हुआ है। परिणाम सामने है। कार्यदायी संस्था के कार्यों की जांच होनी चाहिए तथा धन की वसूली की जानी चाहिए। संदीप श्रीवास्तव, दुर्गेश त्रिपाठी, संतोष भारद्वाज, पंकज द्विवेदी, रुपेश पांडेय, विक्रम चौहान, पवन अग्रहरि, अर्जुन कन्नौजिया, पवन चौरसिया, आदर्श पाठक, लवकुश, रवि, सूरज, रामू, डब्लू ¨सह, रवि तिवारी, विक्की श्रीवास्तव, विपिन तिवारी, दुगैश तिवारी, विनय चौधरी, अभय शर्मा, सत्येंद्र तिवारी मौजूद रहे। जाम से राहगीर परेशान रहे। बाद में मय टीम पहुंचे कोतवाल एमपी चतुर्वेदी ने कड़ी मशक्कत के बाद जाम हटवाए।

Posted By: Jagran