बस्ती : जिलाधिकारी डा. राजशेखर के निर्देश पर बीएसए अरुण कुमार ने बुधवार को साऊंघाट विकास क्षेत्र के परिषदीय स्कूलों की क्रास चेकिग कराई। प्रत्येक विद्यालय की जांच के लिए जिले भर के खंड शिक्षाधिकारी उतारे गए। चेकिग अचानक शुरू हुई। ड्यूटी छोड़ गायब रहने वाले शिक्षक दौड़े-भागे स्कूल पहुंचे। कोई अपनी कमी छिपाने में सफल रहा तो कुछ अनुपस्थित शिक्षक विभाग की नजर में चढ़ गए। हालांकि सभी बीईओ की रिपोर्ट देर शाम तक न आने के कारण अनुपस्थित शिक्षकों की संख्या स्पष्ट नहीं हो पाई। रुधौली कार्यालय के अनुसार सदर बीईओ इंद्रजीत ओझा ने प्राथमिक विद्यालय पड़िया खास, सरैया, गंधरिया फैज, गंधार, मझौआमीर, परशालालशाही, बेलभरिया, महुड़र, जमदाशाही, उमावि मझौआमीर व पकरी का निरीक्षण किया। ओझा ने बताया कि महुड़र में चार शिक्षामित्र व बेलभरिया में एक सहायक अध्यापक, दो शिक्षामित्र, परसाजाफर में एक सहायक अध्यापक, पकरी अधीन में एक सहायक अध्यापक, पड़िया खास में एक शिक्षामित्र अनुपस्थित पाए गए। मझौआमीर और महुड़र में रंगाई,पुताई का कार्य सही नहीं पाया गया। बच्चों की उपस्थिति भी कम पाई गई। पुरानी बस्ती और साऊंघाट संवाददाता के अनुसार बीएसए अरुण कुमार और बीईओ की टीम ने ओड़वारा, साऊंघाट, अमौली, देवरिया माफी, झलकटिया, बायपोखर, कडरखास, पकड़ीजई न्याय पंचायत के स्कूल चेक किए। बीईओ अनीता तिवारी, अखिलेश सिंह, राम कुमार, कपिल देव द्विवेदी, ध्रुव प्रसाद जायसवाल मौजूद रहे। इस दौरान चुनाव के दृष्टिगत स्कूलों में बिजली, पंखा, पानी, बल्ब, रैंप, शौचालयों की स्थिति भी देखी गई। बीएसए ने बताया सभी की रिपोर्ट मिलने के बाद कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस