बस्ती: बहादुरपुर विकास खंड क्षेत्र में कुसौरा बाजार से सोंधिया घाट जाने वाला मार्ग गड्ढों में तब्दील हो गया है। इससे लोगों का आवागमन मुश्किल हो गया है। लोग जोखिम भरा सफर करने को मजबूर हैं। आठ किमी का यह अति व्यस्ततम मार्ग सरकार के गढ्डायुक्त अभियान की पोल खोल रहा है।

मार्ग का निर्माण 15 वर्ष पहले हुआ था। इसके बाद क्षेत्रीय लोगों की मांग पर सपा सरकार ने मनोरमा नदी के सोंधिया घाट पर पुल का निर्माण करवाया तो आवागमन और बढ़ गया। तीन वर्ष पहले कहीं-कहीं मार्ग की मरम्मत कराई गई, किंतु वर्तमान में यह गड्ढों में तब्दील हो चुकी है। बारिश के कारण राहगीरों की दिक्कत और भी बढ़ गई है।

क्षेत्र के डा. दीपक सिंह, राकेश सिंह, जयप्रकाश चौधरी, चंद्रिका सिंह, रामगोपाल, शिवपूजन, आलोक मिश्र, राजीव मिश्र, मनोज कुमार, पंकज मौर्य, अवधेश मौर्य, नंदलाल यादव, रोहित ओझा, विनोद कुमार, संजय कुमार ओझा आदि का कहना कि जिला मुख्यालय, बाजार व स्कूल, कालेज जाने का यही मुख्यमार्ग है जो कि गड्ढों में तब्दील है कई बार इस संबंध में क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों को अवगत कराया गया, लेकिन कोई ध्यान नहीं दे रहा है। जनप्रतिनिधियों की उदासीनता के कारण इस प्रमुख समस्या का समाधान नहीं हो पा रहा है। इससे लोगों में रोष बढ़ रहा है।

--

कहते हैं क्षेत्रीय विधायक

क्षेत्रीय विधायक रवि सोनकर का कहना है कि मामला संज्ञान में है। इस मार्ग के मरम्मत को लेकर टेंडर की प्रक्रिया पूर्ण हो चुकी है, बारिश के कारण कार्य शुरू नहीं हो सका है। मौसम ठीक होते ही कुसौरा बाजार से सोंधिया घाट तक मार्ग का मरम्मत कार्य शुरू हो जाएगा।

Edited By: Jagran