जागरण संवाददाता, रुधौली, बस्ती : रुधौली थाना क्षेत्र के सेहुड़ा कला गांव को सील कर दिया गया है। गांव के चारों ओर पुलिस का सख्त पहरा है। इमरजेंसी सेवाओं के लिए छूट मिलेगी। गांव से बाहर आने-जाने पर पाबंदी लगा दी गई है।

गांव का 45 वर्षीय युवक औरंगाबाद में रहकर मेहनत मजदूरी कर परिवार का भरण-पोषण करता था। लॉकडाउन-4 में 12 मई को वह बाइक से एक साथी के साथ गांव चला आया। 14 मई को की रात में दोनों युवक घर पहुंच गए। यहां पहुंचने के सात दिन बाद युवक की तबीयत अचानक बिगड़ गई। गांव से वह बस्ती शहर के एक मोहल्ले में रहकर इलाज करा रहा था। 22 मार्च की सुबह अचानक सीने में दर्द और सांस लेने में तकलीफ बढ़ने लगी। आनन फानन में जिला अस्पताल ले जाया गया जहां पर उसकी मौत हो गई थी।

युवक के कोरोना से मरने की पुष्टि शुक्रवार को जैसे ही की गई एसडीएम नीरज प्रसाद पटेल के निर्देश पर गांव के रास्तों पर बैरिकेडिग करते हुए सील कर दिया गया। थानाध्यक्ष सुरेंद्र कुमार यादव ने मय टीम पूरे गांव का जायजा लिया। एसडीएम ने ग्रामीणों को जागरूक करते हुए कहा कि गांव के लोग अनावश्यक घर से बाहर न निकलें। शारीरिक दूरी का पालन करें और साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दें। एसीएमओ डा. फखरेयार हुसैन ने बताया कि मृतक शहर के जिस मुहल्ले में ठहरा था,वहां की हिस्ट्री खंगाली जा रही है।

------

परिवार के 13 लोग क्वारंटाइन : मृतक की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद उसके परिवार से जुड़े 13 सदस्यों को आश्रम पद्धति विद्यालय भानपुर में बनाए गए क्वारंटाइन सेंटर में शिफ्ट कर दिया गया है। जरूरत पड़ने पर सैंपल भी कराया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस