बस्ती: जिलाधिकारी डा. राजशेखर ने बुधवार को सुबह बनकटी विकास खंड के बखरिया ग्राम पंचायत के ओडीएफ राजस्व गांव दौलतपुर का निरीक्षण किया। इस दौरान खामियां मिलने पर ग्राम पंचायत के सचिव प्रकाश मोहन को निलंबित कर दिया। साथ ही एडीओ पंचायत राम प्रकाश पांडेय को प्रतिकूल प्रविष्टि और बीडीओ संजय नायक को सख्त चेतावनी दी गई।

डीएम ने 43 घर वाले दौलतपुर राजस्व गांव का सुबह 6 बजे निरीक्षण किया। इस दौरान गांव में पाया गया कि 20 शौचालय लोगों ने व्यक्तिगत खर्चे पर बनवाया है। 23 घरों में शौचालय अभी भी नहीं है, फिर भी 28 अगस्त को पंचायती राज विभाग द्वारा इसे खुले में शौच मुक्त घोषित कर दिया गया। इसी के साथ स्वच्छ भारत मिशन की बेस लाइन सर्वे में कुछ बाहरी व्यक्तियों के नाम भी पाए गए, जिनकी संख्या लगभग दो दर्जन है। जबकि शौचालय के नाम पर साढ़े पांच लाख रुपए की धनराशि फरवरी माह से ही ग्राम पंचायत के खाते में पड़ी हुई है। गांव के ओडीएफ होने पर जिलाधिकारी का माथा ठनका। शौचालय मद का धन बिना खर्च हुए ही गांव कैसे ओडीएफ हो गया। जिलाधिकारी के गांव में पहुंचने पर विभाग द्वारा आनन फानन में रामलौट एवं जितेंद्र शुक्ल के घर पर शौचालय का गड्ढा खोदवाना प्रारंभ करवा दिया गया। जितेंद्र शुक्ल के घर पर खोदे जा रहे गड्ढे के निरीक्षण के दौरान, उन्होंने जिलाधिकारी से आवास की मांग कर दिया इसपर जिलाधिकारी उनके घर में घुसकर जांच की देखा, मौके पर घर निर्माणाधीन मिला। जिलाधिकारी मौके पर मौजूद प्रधान प्रतिनिधि श्याम जी मिश्र को मनरेगा के तहत जाब कार्ड बनाने के लिए निर्देशित किया। मतदाता अभियान की प्रगति के संबंध में बीएलओ मंजू देवी से मतदाता सूची से एक नाम ढूंढने को कहा, जो बीएलओ नही ढूंढ पाई, फार्म 6 के प्रगति के बारे में फार्म 4 के बारे में जिलाधिकारी को जानकारी दिया, लेकिन मौके पर दिखा नहीं पाई। ग्रामीणों ने शिकायत किया कि वह पहली बार गांव में आई है, इस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी जताई। गांव के निवासियों से राशन वितरण के संबंध में जिलाधिकारी द्वारा पूछे जाने पर ग्रामीणों ने वितरण के संबंध में कोटेदार द्वारा अनियमितता का मामला उठाया। जिलाधिकारी ने मौके पर कोटेदार को तलब किया, लेकिन वह नहीं आए, जिस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त की। इस मौके पर जिला पंचायत अधिकारी शिवशंकर ¨सह, खंड विकास अधिकारी संजय नायक, सहायक विकास अधिकारी पंचायत रामप्रकाश पांडेय, क्षेत्रीय युवा कल्याण अधिकारी अरूण कुमार पांडेय, ब्लाक समन्वयक स्वच्छ भारत मिशन राजू पांडेय मौजूद रहे।

Posted By: Jagran