बस्ती: बस्ती जिले के बनकटी विकास क्षेत्र में सरयू नहर से जुड़ी महुली रजवाहा रविवार को लालगंज थाना भवन से डेढ़ सौ मीटर की दूरी पर कट गई। जिसके चलते बांसापार, बनकटी, सजनाखोर, पंखोबारी, बरंडा, बरोहिया तथा पगार खास गांव की खरीफ की समस्त फसलें डूब गई। लालगंज थाना भवन के चारों तरफ पानी घिर गया है। थाना परिसर में रखी विभिन्न मुकदमों में वांछित गाड़ियां पानी में डूब गयी हैं। थाना मार्ग पर घुटने तक पानी भर गया है ।

हमारे बनकटी संवाददाता के अनुसार ग्रामीणों द्वारा कई बार विभागीय अधिकारियों को नहर कटने के बारे में सूचना दी गई लेकिन रविवार अवकाश का बहाना बनाकर जिम्मेदारों ने पल्ला झाड़ लिया। दिन में तीन बजे के बाद स्थानीय ठीकेदार के कुछ श्रमिक कटान वाली जगह पर पहुंचे। श्रमिकों का कहना है कटान तेज है 24 घंटे नहर को बांधने में लगेंगे। ग्रामीण कैलाश यादव, चंद्रप्रकाश यादव, राम ललित, सुरेंद्र बहादुर सिंह, लाल जी, महेंद्र, रामजी तथा निर्मल का कहना है कि अगर नहर का पानी ऐसे बहता रहा तो अगले 24 घंटे में बासापार और वरंडा ग्राम के प्रत्येक घरों में पानी घुस जाएगा। इसी के साथ और भी कई गांव नहर के पानी से तबाह होंगे। पानी का दबाव बढ़ने से कटान शुरू महराजगंज, बस्ती: हर्रैया विकास क्षेत्र के निपनिया ग्राम से होकर गुजरने वाली सरयू नहर में पानी का दबाव बढ़ने से कटान शुरू हो गया। जिससे आसपास सैकड़ों बीघा खेत जलमग्न हो गया। किसानों की फसल पानी में डूब गई है। जिसे बर्बाद होते देख किसानों में मायूसी छा गई है।

निपानिया व गोपालपुर ग्राम के बीच नहर में लंबा कटान हो गया है। नहर का पानी इन दो गांवों के अलावा कोदई, मोचीपुरवा के सीवान में भी फैल गया है। ग्रामीणों को नहर कटने की आशंका पहले से ही थी। निपानिया निवासी रामप्रताप की अगुवाई में सूर्यनारायण,राममिलन, रामचेत रामसजन, जितेंद्र कुमार आदि नागरिकों ने उपजिलाधिकारी कार्यालय हर्रैया में प्रार्थना पत्र भी सौंपकर स्थिति से अवगत कराया था। लेकिन प्रशासन एवं संबंधित विभाग इस ओर ध्यान नहीं दिया। नहर में पानी अत्यधिक होने के चलते कई जगहों पर ओवरफ्लो हो रहा था। लेकिन तत्काल बचाव कार्य न होने के चलते स्थिति बिगड़ गई। फसल जलमग्न होने के बाद प्रशासनिक अमला जागा। कटान रोकने के लिए रविवार को मरम्मत कार्य शुरू कराया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस