बस्ती : बारिश से लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिली। सोमवार की सुबह बूंदाबांदी शुरू हुई। दिन में 12 बजे के बाद जोरदार बारिश हुई, जो रुक-रुक कर देर शाम तक होती रही। एक तरफ बारिश से किसानों को राहत मिली तो दूसरी तरफ बदहाल सड़कों पर पानी भर गया, जिससे राहगीरों को आने जाने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा।

बारिश के बीच तेज हवाओं के चलते तमाम जगहों पर बिजली भी बाधित रही। शहर के कई मोहल्लों की सड़कों से लेकर गलियों में पानी भर गया। लोगों को आने जाने में काफी परेशानी हुई। बारिश होने से तापमान में भी गिरावट हुआ है। शहर के मंगल बाजार, पुरानी बस्ती, बड़ेवन ओवर ब्रिज, कटरा चुंगी, आवास विकास कालोनी में मार्गों पर पानी भर गया।

कृषि विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ विज्ञानी डा. आरवी सिंह ने बताया कि बारिश से सब्जियों की खेती को नुकसान पहुंचा है। इसके साथ ही सामान्य गति से पूर्वी हवा भी चलती रहेगी। अधिकतम तापमान 26.0 डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम तापमान 21.0 डिग्री सेल्सियस रहा। बताया कि मंगलवार को दिन में बादल छाए रहेंगे। बारिश होगी।

नाले का सफाई अभियान सुस्त

बरसात के मौसम में जल निकासी की समस्या से निजात दिलाने के लिए नगर पंचायत बभनान में जारी सफाई अभियान सुस्त पड़ गया है। नौ लाख रुपये से नालों की सफाई होनी है । 10 दिन पूर्व सिर्फ एक नाले की सफाई का कार्य कराया जा रहा। नाली से कचरा निकाल सड़क किनारे छोड़ दिया गया है । कचरे से उठती दुर्गंध से स्थानीय लोगों को परेशानी हो रही है। बारिश होने से सड़क पर पड़ा कूड़ा फिर से नाली में चला जा रहा है। जिससे जल निकासी की समस्या जस की तस बनी हुई है। नगर पंचायत बभनान के प्रमुख नालों की सफाई का कार्य ठेके पर दिया गया है। मानसून ने भी दस्तक दे दी है ऐसे में नाले की सफाई का कार्य कैसे होगा। इस संबंध में अधिशासी अधिकारी रमेश गुप्ता ने बताया कि यदि कचड़ा पुन: नाली में चला जा रहा है तो ठेकेदार को नाले की फिर से सफाई करानी होगी। अगर सफाई नहीं कराई गई तो भुगतान में समस्या आएगी।

Edited By: Jagran