बस्ती: ओड़वारा और बस्ती रेलवे स्टेशन के बीच रेल ट्रैक पर जिस युवक का शव मिला था उसकी मौत को लेकर सवाल खड़े हो गए हैं। परिजनों ने मामले में हत्या की आशंका जताई है। कहा है कि उन्हे बेटे की मौत एक सोची समझी साजिश लग रही है।

मंगलवार देर शाम ओड़वारा रेलवे स्टेशन से पश्चिम लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस ट्रेन से कट कर एक युवक की मौत हो गई थी। उसकी पहचान रोहित ¨सह 18 पुत्र वीरेंद्र ¨सह निवासी लामी चौराहा, थाना भोरे जिला गोपालगंज बिहार के रूप में हुई थी। वह महाराणा प्रताप डिग्री कालेज में बीकाम प्रथम वर्ष का छात्र था। परिजनों की मानें तो वह रविवार को हंसी खुशी घर से निकला था। वीरेंद्र ¨सह की तीन संतानों में रोहित बड़ा था। मंगलवार को बेटे द्वारा आत्महत्या करने की खबर सुनकर परिजन भौचक रह गए। पिता का कहना है कि घर से हंसी खुशी निकला रोहित बस्ती जैसे दूर शहर में जाकर आत्महत्या क्यों करेगा। आत्म हत्या की कोई वजह भी तो नहीं है। उन्होंने उसके हत्या की आशंका जताते हुए जांच की मांग की।

वहीं जीआरपी थाना प्रभारी राना राजेश ¨सह ने बताया कि ट्रेन के ड्राइवर ने मेमो दिया था कि युवक ने ट्रेन के आगे कूद कर आत्महत्या की है।

Posted By: Jagran