बस्ती: ज्वाइंट मजिस्ट्रेट प्रेम प्रकाश मीणा गुरुवार को दोपहर बाद एक बजे विकास खंड मुख्यालय स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय का निरीक्षण किया। निरीक्षण में विद्यालय पर तैनात 12 में से सिर्फ दो शिक्षक उपस्थित मिले। अनुपस्थित शिक्षकों की स्वीकृति भी नहीं दर्ज थी। इसको लेकर उन्होंने कड़ी नाराजगी जताई।

उन्होंने कक्षा में पठन-पाठन की व्यवस्था को भी देखा। छात्राओं से संवाद स्थापित कर उनसे सुविधाओं के बारे में जानकारी ली। खानपान के बारे में पूछा। पेयजल, शौचालय व साफ-सफाई की हकीकत हो भी देखा। सफाई व्यवस्था संतोषजनक नहीं थी। खिड़कियों के टूटने, बिस्तर व चारपाई की अव्यवस्था पर नाराजगी जाहिर की और इसमें तत्काल सुधार लाने का निर्देश दिया। उन्होंने बताया कि विद्यालय की अव्यवस्था से जिलाधिकारी को अवगत कराया जाएगा।

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने विद्यालय को मुख्य मार्ग से जोड़ने वाले संपर्क मार्ग का जायजा लिया। सड़क पर अतिक्रमण देखकर नाराज भी हुए। हल्का लेखपाल अनुराग को दो दिन के अंतर सड़क से अतिक्रमण हटाने का निर्देश दिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस