बस्ती : भारत रत्न पं. अटल बिहारी वाजपेयी प्रेक्षागृह में शुक्रवार को राज्य स्तरीय किसान मेला एवं गोष्ठी आयोजित की गई। गोष्ठी में नई तकनीक से खेती करने के तरीके बताए गए। फूल की खेती से तरक्की के उपाय बताए गए। प्रदर्शनी का शुभारंभ सांसद हरीश द्विवेदी ने किया। कहा, सरकार खेती के जरिये किसानों को समृद्ध बनाने के योजनाएं संचालित कर रही है। आय दोगुना करने के लिए पूरा प्रयास हो रहा है। किसानों को हक दिलाना सरकार का मकसद है।

सदर विधायक दयाराम चौधरी ने कहा सरकार किसानों को लेकर संवेदनशील है। मुंडेरवा चीनी मिल का तोहफा जिले को इसी सरकार में मिला है। विधायक महादेवा रवि सोनकर ने कहा पीएम सम्मान निधि सरकार की बड़ी योजना है, इससे किसानों की खेती संबंधी जरूरतें पूरी होंगी। पहले की सरकारें किसानों से दूर भागती थीं, भाजपा सरकार किसानों को साथ लेकर चल रही है। आयुक्त अनिल कुमार सागर ने कहा यह क्षेत्र फूल की खेती के लिए बेहतर है। इससे किसान को आर्थिक मजबूती मिलेगी। यहां फूल की खपत अधिक है। जिलाधिकारी डा. राजशेखर ने कहा सम्मान निधि जल्द ही शेष किसानों के खाते में पहुंचेगी। किसानों को हर योजना का लाभ पारदर्शी तरीके से दिलाया जा रहा है। संयुक्त निदेशक उद्यान डा. आरके तोमर ने पाली हाउस में उगे पौधे, उद्यान की अन्य योजनाएं अपनाने पर जोर दिया। 50 फीसद अनुदान पौधे पर दिया जा रहा है। इस मौके पर खेती-बारी में बेहतर प्रदर्शन करने वाले 10 प्रगतिशील किसानों को सम्मानित किया गया। सीडीओ अरविद कुमार पांडेय, डीडी उद्यान डा. जयभगवान, जिला उद्यान अधिकारी सुरेंद्र पांडेय, उद्यान निरीक्षक धर्मेंद्रचंद्र चौधरी, राम विनोद मौर्य, कृषि वैज्ञानिक डा. राघवेंद्र सिंह, डा. जीपी यादव, डा. जेके लाल, रामलखन, त्रिपुरारी प्रजापति व डीडी कृषि डा. संजय त्रिपाठी मौजूद रहे। 25 माली प्रशिक्षकों को किट दिए गए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस