बस्ती: दिवाली का पर्व नजदीक आते ही मिलावटखोरों की सक्रियता बढ़ गई है। अधिक मुनाफा के चक्कर में उनके द्वारा लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। कहने के लिए मिलावटखोरों पर अंकुश लगाने के लिए अलग से विभाग बनाया गया है। बावजूद इसके मिलावट का धंधा बढ़ता जा रहा है। विभाग द्वारा होली व दिवाली पर कुछ दुकानों से खाद्य पदार्थों का सेंपल लेने के लिए छापेमारी की जाती है। हालांकि कार्रवाई से पहले ही दुकानदार सचेत हो जाते हैं। टीम के पहुंचने की पूर्व ही दुकानें बंद हो जाती हैं। तहसील क्षेत्र का कोई भी बाजार या कस्बा ऐसा नहीं बचा है, जहां मिलावटखोर सक्रिय न हों। अपमिश्रित खाद्य सामग्री का सेवन कर लोग बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं। विभाग के जिम्मेदारों के पास ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने की फुर्सत ही नहीं है। भानपुर, सोनहा, नरखोरिया, असनहरा, मोहम्मदनगर, दुबौली, बरगदवा, बड़ोखर, पिरैला नरहरिया, पचमोहनी, सल्टौआ, देईपार, जिनवा, भिटिया, भिरिया आदि स्थानों पर मिलावटखोरी का धंधा तेजी से चल रहा है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस