बस्ती : गर्भस्थ शिशु की धड़कन अब आसानी से जांची जा सकेगी। इसके लिए महिला अस्पताल में सुविधाएं बढ़ा दी गई हैं। जांच के लिए दो नई फीटल डापलर (एफडी) मशीन मंगाई गई है। इससे मरीजों को जहां सहूलियत होगी, वहीं चिकित्सकों को जांच में आसानी होगी। शिशु की धड़कन आसानी से चिकित्सक जांच सकेंगे। यह मशीन उच्च क्वालिटी की है। मशीन लगाते ही बच्चे की धड़कन की तीव्रता कितनी है पता लग जाएगा। अभी तक यह सुविधा महिला अस्पताल में नहीं थी।

---------

लंबे समय बाद मिली मशीन

महिला अस्पताल में नार्मल क्वालिटी की एक मशीन उपलब्ध थी, लेकिन वह वर्षों से खराब थी। चिकित्सकों की मांग पर यह मशीन नई मंगाई गई है। पहले आला से शिशु की धड़कन जांची जाती थी। अक्सर चिकित्सकों को यह नहीं पता चल पाता था कि धड़कन कितनी तेज और धीमी है। ऐसे में दिक्कतें होती थी। अब मशीन लगाते ही पूरा फीगर सामने आ जाएगा।

--------

लेबर रूम में उपलब्ध रहेगी मशीन

चिकित्सकों के लिए लेबर रूम में एफडी मशीन उपलब्ध रहेगी। एक मशीन क्लीनिक के लेबर रूम और एक मशीन सेप्टिक वार्ड में रहेगी। यदि जरूरत पड़ी तो ओपीडी में मशीन भेजी जाएगी।

---------

मशीन से मिलेगी सहूलियत

बाल रोग विशेषज्ञ डा. पीके श्रीवास्तव व डा. पकंज शुक्ल ने बताया कि मशीन से काफी सहूलियत मिलेगी। बच्चों की धड़कन चेक करने में आसानी होगी।

----------

महिला अस्पताल में दो नई मशीनें आ गईं हैं। काफी अच्छी क्वालिटी की हैं। गर्भस्थ शिशु की धड़कन जांचने में सहायता मिलेगी। मशीन अस्पताल को उपलब्ध करा दी गई है।

डा. एके सिंह, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक महिला अस्पताल

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप