रुधौली, बस्ती: अठदमा गन्ना मिल द्वारा पुराना गन्ना मूल्य भुगतान न मिलने से किसानों की मुश्किल बढ़ गई है। बकाया न मिलने के कारण किसान अब मिल को गन्ना देने से कतराने लगे हैं। किसानों का कहना है कि मिल प्रबंधन की लापरवाही से हम लोगों को आर्थिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

किसान राजेंद्र चौधरी का कहना है कि मिल पर 2017-18 का गन्ना भुगतान 24 हजार रुपये बाकी है। मिल प्रबंधन से बात करने पर भी कोई समाधान नहीं निकल रहा है। राम प्रसाद का कहना है कि 40 हजार रुपये का भुगतान बाकी है ।इस वर्ष भी 9 ट्राली गन्ना मिल को दे दिया हूं। पैसा न मिलने से मिल को गन्ना देने की हिम्मत नहीं पड़ रही है। खेत में लगे गन्ने का क्या करें समझ में नहीं आ रहा है। माताप्रसाद ने कहा कि पुराना 25 रुपये बकाया है। इस वर्ष में भी 4 ट्राली गन्ना मिल को दे दिया हूं । अब नहीं दूंगा। दिनेश कुमार का कहना है कि मेरा पुराना बकाया 30 हजार रुपये है इसीलिए अबकी बार हमने मिल को गन्ना नहीं दिया है और ना दूंगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस