बस्ती: बहुचर्चित रामराज हत्याकांड में विवेचक तथ्यों को नए सिरे से खंगालने में जुटे है। शनिवार को पुलिस क्षेत्राधिकारी नौतनवां (महराजगंज) राजू कुमार साव ने शनिवार को घटनास्थल का जायजा लिया। वह घटनास्थल के निकट स्थित ईंट भट्ठे पर गए और पूछतांछ किया। कई अन्य लोगों से मिलकर तथ्य जुटाने में लगे रहे।

इससे पूर्व वह कप्तानगंज थाने के दुबौला चौकी पर पहुंचे। वहां काफी देर तक चर्चा की। कप्तानगंज थानाक्षेत्र के इटहिया गांव निवासी रामराज की 28 अक्टूबर 2019 की रात वाल्टरगंज थाना क्षेत्र के सुकरौली गांव के पास गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। घटना में इटहिया निवासी अशोक कुमार तिवारी, कृष्ण कुमार तिवारी तथा वाल्टरगंज थाना क्षेत्र के सिकटा गांव के उमेश शुक्ल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया गया था। घटना के बाद से पुलिस की कार्रवाई को लेकर आरोपितों के परिजन सवाल उठा रहे है। पुलिस पर जबरन फंसाने का आरोप लगा रहें है। पहले घटना की जांच बस्ती पुलिस कर रही थी। बाद में विवेचना सीओ नौतनवां को दे दी गई।

सीओ नौतनवा राजू कुमार साव ने कहा कि सभी बिदुओं पर गंभीरता से जांच की जा रही है। अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस