जासं वाल्टरगंज, बस्ती : थानाक्षेत्र के पड़री गांव निवासी 25 वर्षीय शिवमूर्ति शुक्ल की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। उसका शव रविवार को गांव के बाहर बाग में मिला। पुलिस के अनुसार उसने पेड़ में फांसी लगाकर जान दी है। घरवालों ने पुलिस के पहुंचने से पहले उसका शव नीचे उतार दिया था। शव को कब्जे में लेकर पुलिस ने परिवारीजनों के साथ ही गांव के लोगों से भी पूछताछ की।

पड़री गांव निवासी सत्यनारायण शुक्ला के दो बेटों में शिवमूर्ति शुक्ला छोटा था। वह घर पर ही रहकर खेती-बारी करता था। पूछताछ में परिवारीजनों ने बताया कि शनिवार की रात खाना खाने के बाद शिवमूर्ति सोने चला गया। भोर में करीब चार बजे उसकी मां कुशलावती की नींद खुली तो देखा कि वह अपने बिस्तर पर नहीं है। कुछ देर बाद ही गांव के पास स्थित बाग में उसके शव पर किसी की नजर पड़ी। बताया गया कि उसने पेड़ से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

थानाध्यक्ष व फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंच गई। पुलिस पहुंची तो शव बाग में जमीन पर पड़ा मिला। शरीर पर किसी तरह के चोट के निशान नहीं थे। फोरेंसिक टीम ने घटनास्थल से साक्ष्य जुटाए। थानाध्यक्ष विनय कुमार सिंह ने बताया कि पूछताछ में परिवार के लोग घटना की वजह नहीं बता पा रहे हैं। प्रथमदृष्टया मामला आत्महत्या का लग रहा है, फिर मौत की सही वजह जानने के लिए शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। विवाहिता को प्रताड़ित करने का आरोप

बस्ती: महिला थाना पुलिस ने दहेज के लिए विवाहिता को प्रताड़ित करने के आरोप में पति समेत पांच के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। गौर थाना क्षेत्र की रहने वाली शशि जायसवाल की शादी संतकबीरनगर जिले के दुधारा निवासी गिरीश जायसवाल के साथ हुई है। वर्तमान में वह अपने मायके में रह रहीं शशि का आरोप है कि ससुराल वाले उन्हें दहेज के लिए प्रताड़ित करते हैं। दहेज में चार पहिया गाड़ी व नकदी की मांग करते हैं। पुलिस तहरीर के आधार पर पति गिरीश जायसवाल, ससुर कन्हैयालाल जायसवाल, सास गायत्री देवी, देवर संजय व देवरानी सुमन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की छानबीन कर रही है।

Edited By: Jagran