जागरण संवाददाता, बस्ती : जिले में कोरोना टीकाकरण का क्रम जारी है। शनिवार को बड़े पैमाने पर अभियान चलाकर लोगों का टीकाकरण किया। गांवों में डोर-टू-डोर जाकर स्वास्थ्य टीम ने वैक्सीनेशन किया। कुल 403 टीकाकरण बूथों पर अभियान चलाया गया, जिसमें 11 हजार 536 को कोरोना से बचाव का टीका लगाया गया। कुल 33 हजार टीकाकरण किए जाने का लक्ष्य था।

जिला अस्पताल, महिला अस्पताल, ओपेक चिकित्सालय कैली, सीएचसी-पीएचसी, सब सेंटरों व गांवों में अभियान चलाकर टीकाकरण किया गया। अभियान में 815 लोगों को बूस्टर डोज दी गई। इसमें 60 वर्ष से ऊपर बुजुर्गों समेत फ्रंट लाइन वर्कर, हेल्थ केयर वर्कर शामिल हैं। इसके अलावा किशोर-किशोरियों के टीकाकरण पर जोर दिया गया। अभियान में 4652 किशोर-किशोरियों को भी वैक्सीन लगाई गई। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. फखरेयार हुसैन ने बताया कि जिले में टीकाकरण का कार्य सुचारू रूप से चल रहा है। नगर पालिका समेत शहर के विभिन्न स्थानों पर वैक्सीनेशन कार्य हुआ। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया कि पहली डोज लगवा चुके लोगों को द्वितीय डोज के लिए प्रेरित किया जा रहा है। जिला व महिला अस्पताल में वैक्सीनेशन हुआ। जिला अस्पताल में 39 को कोविशील्ड और 35 को को-वैक्सीन की डोज दी गई। एएनएम सरिता सिंह, स्टाफ नर्स पवन, सुनीता चौधरी आदि ने वैक्सीनेशन कार्य किया। अब तक जिले में 27 लाख 95 हजार 673 लोगों को वैक्सीन लग चुकी है। इसमें 18 व 45 प्लस और किशोर वर्ग वाले लोग शामिल है। फ्रंटलाइन वर्कर, हेल्थ केयर वर्कर और 60 साल से अधिक आयु वर्ग वाले जिनको बूस्टर डोज दी गई है वह भी शामिल हैं। एसीएमओ ने कहा कि बूस्टर डोज लगवाने वाले लोग अपने फोन से सेल्फ रजिस्ट्रेशन करके बूथ पर पहुंचे, इससे आसानी होगी। बताया कि टीकाकरण का फीसद बढ़ाने के लिए टीम घर-घर जाकर छूटे लोगों का वैक्सीनेशन कर रही है। लोगों को सहूलियत भी मिल रही है। जो लोग पात्र हैं वह बूस्टर डोज जरूर लगवा लें। वहीं खराब मौसम और बारिश के चलते वैक्सीनेशन कार्य भी प्रभावित हुआ।

Edited By: Jagran