जागरण संवाददाता, बस्ती : जिले का तापमान गिरने से ठंड बढ़ गई है। गलन वाली ठंड से लोग कांप रहे हैं। ठंड के साथ चल रही पछुआ हवाओं के झोकों से लोग परेशान हैं। वहीं हल्की धूप होने के बाद भी ठंड से कोई राहत नहीं मिली, इससे आमजन के साथ ही पशु-पक्षी बेहाल नजर आए।

रात में हल्का कोहरा छाए रहा। इससे सड़कों पर वाहनों की रफ्तार में कमी देखी गई। रविवार को सुबह से ही आसमान में बादल छाए रहे। हवा के चलते कोहरे का धुंध छंट गया था। वहीं सूरज भी देर से निकला। दिन में 11 बजे के बाद सूरज बादलों की ओट से बाहर निकले, लेकिन बादल व सूरज के बीच दिनभर लुका-छिपी का खेल चलता रहा। हल्की धूप होने के बाद भी दिनभर ठंड बरकरार रहा। लोग गर्म पकड़े से खुद को ढक कर ही बाहर निकले। ठंड से बचने को अधिकतर लोग घरों में दुबके रहे। शहर और गांवों में लोग अलाव तापते दिखे। हल्की धूप निकलने से छोड़ी राहत मिली, लेकिन ठंड से लोग ठिठुरते दिखे। कृषि विज्ञान केंद्र बंजरिया के वैज्ञानिक डा. आरवी सिंह के अनुसार रविवार को अधिकतम तापमान (डिग्री.से.) 18.0 (-0.7) रहा। न्यूनतम तापमान (डिग्री.से.) 8.0 (सामान्य) रहा। सापेक्षिक आ‌र्द्रता अधिकतम 91 प्रतिशत, सापेक्षिक आ‌र्द्रता न्यूनतम 80 प्रतिशत रहा। हवा की गति 4.4 किमी./घंटा रही। उत्तरी-पश्चिमी से हवाएं चल रही हैं। आगामी 24 घंटे में कोहरा छाए रहने एवं हवा के सामान्य गति से पश्चिमी ही चलने के आसार हैं। जिला कृषि अधिकारी डा. मनीष कुमार सिंह के अनुसार गेहूं में पर्याप्त नहीं होने से फसल अच्छी होगी। फसलों को लेकर किसान सतर्क रहे। बारिश होने की कोई संभावना फिलहाल नहीं है।

Edited By: Jagran