जागरण टीम, बस्ती : वाल्टरगंज थाना क्षेत्र में एक युवक और किशोरी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। युवक का शव शुक्रवार की भोर में पेड़ से लटका मिला तो किशोरी का शव गुरुवार की रात में कमरे के अंदर छत की कुंडी से लटका पाया गया। पुलिस ने दोनों शव को कब्जे में लेकर छानबीन कर रही है।

थानाक्षेत्र के मोहम्मदपुर गनेशपुर के कोइरीपुरवा निवासी 35 वर्षीय संजय मौर्या उर्फ चेतू पुत्र मोलहू का शव संदिग्ध परिस्थितियों में शुक्रवार की भोर में हंसराज लाल इंटर कालेज के दक्षिण स्थित खेत में लगे पेड़ से गमछे के सहारे लटका मिला। शौच के लिए गए कुछ लोगों ने पेड़ से शव लटका देखा तो इसकी जानकारी डायल 112 को दी। मृतक के भाई सोनू मौर्य ने बताया कि गुरुवार की रात आठ बजे उसका भाई नशे की हालत में घर आया और विवाद करने लगा। सभी लोग उसे समझा-बुझाकर सोने चले गए। बताया कि गांव में तीन चार दिन पहले कुछ लोगों से उसकी लड़ाई हुई थी। मौके पर पहुंचे चौकी प्रभारी सुरेंद्र प्रसाद, मुख्य आरक्षी शैलेंद्र यादव, सिपाही कामोद कुशवाहा व विनोद यादव ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। संजय रिक्शा चलाकर परिवार का भरण-पोषण करता था। दिवंगत अपने पीछे पत्नी रुकमा व तीन बच्चों को छोड़ गया है। चौकी प्रभारी सुरेंद्र प्रसाद ने बताया कि प्रथमदृष्टया मामला आत्म हत्या का लग रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो पाएगा।

दूसरी घटना थानाक्षेत्र के मझौआ खुर्द बाबा गांव में हुई। खुशहाल की 15 वर्षीय पुत्री साधना की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई।

परिवार के लोगों ने बताया कि घटना के समय साधना घर पर अकेली थी। उसके पिता जरूरी सामान खरीदने बाजार गए थे, जबकि मां भैंस चराने गई थी। घर वापस लौटने पर उसने बेटी को खोजना शुरू किया, लेकिन कुछ पता नहीं चल सका। रात में एक कमरे का दरवाजा अंदर से बंद मिला। काफी देर आवाज देने व दरवाजा खटखटाने पर भी जब नहीं खुला तो परिवार के लोगों दरवाजा तोड़ दिया। कमरे के अंदर साधना का शव छत की कुंडी से दुपट्टे के सहारा लटक रहा था। घटना की जानकारी पुलिस को दिए बिना शव को नीचे उतार दिया गया। इस बीच किसी ने घटना की सूचना पुलिस को दे दी। थानाध्यक्ष दुर्विजय ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर मौत का स्पष्ट कारण जानने के लिए पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। कुंए में कूदने से युवक की मौत

जासं लालगंज, बस्ती: स्थानीय थाना क्षेत्र के ठोकवा गांव निवासी 22 वर्षीय युवक दीपक कुमार उर्फ दीपू शुक्रवार को सुबह घर के सामने गहरे कुएं में कूद पड़ा, जिससे उसकी मौत हो गई। परिवार वालों के अनुसार उसकी दिमागी हालत ठीक नहीं थी। उसका इलाज भी गोरखपुर के एक चिकित्सक से वहां से चल रहा था।

कुएं में कूदते समय गांव के कुछ लोगों की निगाह उस पर पड़ी तो लोगों ने गुहार लगाई। गांव के लोग इकट्ठा हो गए और उसे बचाने का प्रयास करने लगे, लेकिन कुएं में पानी इतना अधिक था कि कोई भी कुएं में उसका पता नहीं लगा पाया। ग्रामीणों ने कुएं में पंप सेट लगाकर पानी बाहर निकाला, तब तक दीपक की मौत हो चुकी थी। घटना की सूचना लालगंज पुलिस को दी गई। लालगंज के प्रभारी थानाध्यक्ष मुकुंद त्रिपाठी ने पंचनामा भरकर शव को कब्जे में लिया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप