जागरण संवाददाता, बस्ती : कोरोना क‌र्फ्यू में बिजली के बड़े बकाएदारों के खिलाफ बिजली विभाग ने कार्रवाई ढीली कर दी थी,लेकिन राजस्व कम आने के बाद पुन: यह कार्रवाई शुरू कर दी गई है। शुक्रवार को पूरे जिले में विभाग ने टीम बनाकर गांव-गांव विद्युत विच्छेदन के लिए अभियान चलाया। बड़ी संख्या में 261 कनेक्शन काटे गए।

शहरी क्षेत्र में एक्सईएन संतोष कुमार की अगुवाई में अभियान चलाकर बकाएदारों की बिजली काटी गई। एक्सईएन ने बताया कि 55 कनेक्शन काटे गए। टीम ने आठ लाख रुपये की राजस्व वसूली भी की। एक्सईएन ने कहा कि अभियान शुरू हो गया है। बकाएदार बिजली बिल जमा कर दें, अन्यथा उनकी बिजली काट दी जाएगी। एक्सईएन तृतीय हेमंत सिंह ने बताया कि ओड़वारा, देईसाड़, टिनिच, महसो, बानपुर समेत अन्य जगहों पर विद्युत टीम ने बिजली के बड़े बकाएदारों के खिलाफ अभियान चलाया। 126 कनेक्शन काटे गए। साढ़े तीन लाख रुपये की वसूली की गई। एक्सईएन द्वितीय ज्ञान प्रकाश ने बताया कि विद्युत विच्छेदन की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। जो भी बकाएदार हैं वह जल्द से जल्द भुगतान कर कार्रवाई से बच सकते हैं। अभियान में 80 कनेक्शन काटे गए। ढाई लाख रुपये की राजस्व वसूली भी हुई। हर्रैया में भी अभियान चलाकर कनेक्शन काटे गए। एसई आरबी कटियार ने कहा कि राजस्व वसूली बढ़ाने के लिए सभी अभियंताओं को निर्देश दिए गए हैं।

---

कोरोनाकाल में कम हो गई वसूली, बढ़ी चिता :

कोरोना क‌र्फ्यू और संक्रमण के प्रभाव के चलते बिजली बिल जमा करने की संख्या काफी कम हो गई है, ऐसे में विभाग की चिता बढ़ी है। बताया जा रहा है कि पिछले साल की तुलना में इस साल के मई-जून में वसूली फीसद काफी गिर गई है। अब इसे बढ़ाने के लिए अभियंताओं के पेंच कसे गए हैं।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप